कालेपन से पीछा छुड़ाने के लिए अपनाएं घरेलू नुस्खे

डार्क अंडरआर्मस कोई बड़ी समस्या नहीं है। हमें अपनी ही कुछ गलतियों के कारण डार्क अंडरआर्मस की समस्या झेलनी पड़ती है। त्वचा के इस कालेपन से पीछा छुड़वाने के लिए सबसे पहले हमें इसके पीछे छिपे कारण जरुर पता होने चाहिए। तो चलिए जानते हैं अंडरआर्मस के कालेपन के पीछे छिपी वजह।

टाइट कपड़े

कई बार कपड़ों की स्लीवस इतनी टाइट होती है कि लगातार स्किन पर कपड़े का घिसाव होता रहता है। जिससे डार्क अंडरआर्मस की समस्या पैदा हो जाती है। ऐसे में खासतौर पर गर्मियों में टाइट कपड़े पहनने से बिल्कुल परहेज करें।

नमी

कुछ लोग नहाने के बाद पूरा शरीर तो पोंछ लेते हैं मगर अंडरआर्मस को अच्छी तरह ड्राइ करना भूल जाते हैं। ये गलती करने से अंडरआर्मस में बैक्टीरिया पैदा होते हैं जो त्वचा के काला पड़ने का कारण बनते हैं। इस प्रॉबल्म से बचने के लिए अंडरार्मस को हमेशा ड्राइ रखना चाहिए।

डेड स्किन

डेड स्किन भी अंडरआर्मस के कालेपन का कारण बनती हैं। ऐसे में जिस तरह चेहरे की डेड स्किन रिमूव करने के लिए स्क्रब का इस्तेमाल किया जाता है उसी तरह हफ्ते में एक बार जरुर अंडरआर्मस की भी स्क्रबिंग बहुत जरुरी है।

हेयर रिमूविंग क्रीम

भले इन क्रीमस के साथ त्वचा के रोम साफ करना आसान काम है मगर इनका इस्तेमाल धीरे-धीरे त्वचा पर काले धब्बे छोड़ना शुरु कर देता है। ऐसे में हेयर रिमूव करने के लिए वैक्सिंग का ही इस्तेमाल करें तो ज्यादा बेहतर होगा।

डीयोड्रेंटस

पसीने से बचने के लिए ज्यादातर महिलाएं डीयोड्रेंट्स का इस्तेमाल करती हैं। डीयोज में ऐसे कई तरह के कैमिकल्स पाए जातें हैं जिनसे त्वचा का रंग गहरा होता रहता है। बरसाती मौसम में पाउडर डालना भी इनके कालेपन का कारण बनता है।
बेकिंग सोडा और रोज वॉटर

कालेपन को दूर करने के लिए अंडरआर्मस पर एक चम्मच बेकिंग सोडा में रोज वॉटर मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। इस पेस्ट को हफ्ते में 2 बार त्वचा पर लगाएं। धीरे-धीरे अंडरआर्मस का कालापन दूर हो जाएगा।

आलू का टुकड़ा

आलू अंडरआर्मस को ऩेचुरल तरीके से ब्लीच करता है। आलू के रस और नींबू के रस को बराबर मात्रा में मिलाकर भी अंडरआर्म्स पर लगाएं। इससे कालापन कुछ ही दिनों में दूर हो जाएगा।

बेसन और दही

बेसन एक बेहतरीन स्क्रब है जो स्किन के डेड सेल को हटाकर स्किन टोन को एक समान करने में मदद करता है। दही में मौजूद लैक्टिक ऐसिड स्किन को कंडीशन करने के साथ ही उसे सॉफ्ट भी बनाता है। बेसन और दही को मिलाकर पेस्ट बना लें, इसे हफ्ते में 2 बार डार्क पैचेज पर लगाएं। आप इस घोल में हल्दी का इस्तेमाल भी कर सकती हैं।