वजन कम करने के लिए खाए भूना चना

वजन कम करने के लिए खाए भूना चना

अगर आप में आयरन की कमी है, वजन बढ़ता जा रहा है, हर समय थकान महसूस होती है, तो निश्चित ही आपको अपना स्‍नैक्‍स बदलना चाहिए।

ऐसे में आप शाम के समय कुकीज या चिप्‍स आदि खाने की बजाए आपको अपने ईवनिंग स्‍नैक्‍स में भुने हुए चने शामिल करने चाहिए। ये आपकी स्वास्थ्य के लिए बेहद ही फायदेमंद होते हैं। शरीर की कई कमियों को दूर कर आपको हेल्दी बनाते हैं। यह एक हेल्‍दी व टेस्‍टी स्‍नैक्‍स है। खास बात यह कि ये शरीर को पोषण तो देते हैं पर वजन नहीं बढ़ने देते। जानिए इसके कुछ फायदे।

पोषक तत्‍वों से भरपूर हैं भुने हुए चने
भुने हुए चने में बहुत कम मात्रा में कैलोरी होती है। जबकि यह आयरन व मैग्‍नीशियम का एक बढि़या स्रोत है। चने में प्रोटीन व फाइबर की भी अच्‍छी मात्रा होती है। इसमें शुगर व फैट की मात्रा बहुत सीमित होती है। जिसके चलते ये वजन घटाने वालों के लिए भी अच्‍छा स्‍नैक्‍स है। वहीं डायबिटीज के मरीज भी इसे अपने स्‍नैक्‍स में शामिल कर सकते हैं।

भुने चने खाने के स्वास्थ्य लाभ
जिन बच्‍चों का कद बहुत छोटा हो जाता है व प्‍यूबर्टी की आयु तक भी कद बहुत धीमी गति से बढ़ रहा होता है, तो उनके आहार में भुने चने जरूर शामिल करने चाहिए। यह बच्‍चों की ग्रोथ बढ़ाने में मददगार हैं।

वजन घटाएं
भुने हुए चने में प्रोटीन व मैग्‍नीशियम तो होता है पर कैलोरी बहुत कम होती है। इसमें फैट भी मिनिमम होता है। भूनने की प्रक्रिया में इसके पोषक तत्‍व नष्‍ट नहीं होते। इसलिए इसे अपनी डाइट में शामिल कर आप वजन भी घटा सकते हैं।

डायबिटीज में लाभदायक
मधुमेह यानी शुगर के मरीजों को अपने आहार के ग्लाइसेमिक इंडेक्स पर जरूर ध्‍यान देना चाहिए। उन्‍हें ऐसे अन्न व फलों के सेवन से बचना चाहिए जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स ज्‍यादा हो। भुने हुए चने का ग्लाइसेमिक इंडेक्स बहुत कम होता है। इसलिए इसे डायबिटीज में खाना भी उपयोगी होता है।

पाचन में मददगार
हाई फाइबर सोर्स होने के कारण भुने हुए चने पाचन के लिए बहुत मददगार साबित होते हैं। जिन लोगों का मेटाबॉलिज्‍म वीक है, या जिन्‍हें कब्‍ज की शिकायत रहती है। उन्‍हें भी अपने आहार में भुने हुए चने शामिल करने चाहिए। आप इन्‍हें कभी भी स्‍नैक्‍स के रूप में ले सकते हैं।