वाहन चेकिंग के दौरान भाजपा नेता की पुलिस से झड़प में, थाना प्रभारी के निलंबन की मांग

वाहन चेकिंग के दौरान भाजपा नेता की पुलिस से झड़प में, थाना प्रभारी के निलंबन की मांग

यूपी के मुरादाबाद में वाहन चेकिंग के दौरान भाजपा नेता की पुलिस से झड़प हो गई, जिसके बाद सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ताओं ने थाने में पहुंचकर हंगामा प्रारम्भ कर दिया। गुस्साए लोग थाना प्रभारी के निलंबन की मांग करने लगे। भाजपा नेताओं का आरोप है कि थाने के इंस्पेक्टर ने भाजपा नेता को थप्पड़ मारा है। घटना मुरादाबाद के मझोला थाने की है, जहां देर रात तक हंगामा होता रहा।

दरअसल, मुरादाबाद नवनियुक्त एसएसपी अमित पाठक ने सभी थानाध्यक्षों को नियमित वाहन चेकिंग करने के कठोर आदेश दिए हैं। एसएसपी के इस आदेश के बाद ही मंगलवार थाना मझोला पुलिस दिल्ली रोड पर कांशीराम कॉलोनी के मोड़ पर वाहन चेकिंग कर रही थी। उसी वक्त वहां से गुजर रहे शिवम ठाकुर को पुलिस ने हेलमेट न लगा होने पर रोक लिया।

पुलिस ने बताया कि चेकिंग के दौरान शिवम के पास गाड़ी के सारे पेपर भी नहीं मिले, जिसको लेकर पुलिस इंस्पेक्टर विकास सक्सेना ने शिवम का चालान काटना प्रारम्भ कर दिया।इसको लेकर शिवम खुद को भाजपा का नेता बताकर उसे छोड़ने की बात करने लगा। इसी बीच बात बढ़ गई व दोनों में गर्मा गर्मी हो गई।

बीजेपी युवा मोर्चा के मंडल उपाध्यक्ष शिवम का आरोप है कि थाना अध्यक्ष मझोला विकास सक्सेना ने उससे अभद्रता की व विरोध करने पर उसके थप्पड़ भी मार दिया। शिवम ने इसकी सूचना भाजपा युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष गजेंद्र चौधरी व महानगर अध्यक्ष धर्मेश सैनी को दे दी, जो अपने सैकड़ों समर्थको के साथ थाना मझोला जा पहुंचे व वहां धरने पर बैठ गए।हंगामे की सूचना पर सीओ सिविल लाइंस राजेश कुमार थाना मझोला पहुंचे व आक्रोशित भाजपा कार्यकर्ताओं को समझाने का कोशिश करने लगे, लेकिन भाजपा कार्यकर्ता थाना अध्यक्ष के निलंबन की मांग करते रहे।

काफी देर तक हंगामा चलता रहा लेकिन भाजपा कार्यकर्ता अपनी मांग पर अड़े रहे। वहीं, थाना अध्यक्ष विकास सक्सेना का बोलना है कि वहां कोई हाथापाई नहीं हुई है व वैसे अभी बातचीत चल रही है। सीओ राजेश कुमार ने बोला कि अगर किसी के साथ कोई अभद्रता या हाथापाई हुई है तो वह तहरीर दे, जाँच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

बीजेपी युवा मोर्चा अध्यक्ष धर्मेश सैनी का बोलना है कि उनके कार्यकर्ता अपने वाहन से जा रहा था। तभी वाहन चेकिंग के दौरान उसके साथ अभद्रता व हाथापाई की गई व वह जब तक कार्रवाई नहीं होगी धरना थाने का घेराव जारी रखेंगे। देर रात तक थाने में हंगामा होता रहा।