केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 1 अगस्त से सारे देश में लागू होने जा रहे अनलॉक 3.0, पढ़े

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 1 अगस्त से सारे देश में लागू होने जा रहे अनलॉक 3.0, पढ़े

आज से आपकी जिंदगी में कई बड़े परिवर्तन हो गए हैं, जिनका आपकी जेब पर बहुत प्रभाव पड़ने वाला है। ये परिवर्तन आपके बैंक खाते (Bank Account), रसोई गैस

(LPG) से लेकर के गाड़ियों के बीमा (Vehicle Insurance) पर हुए हैं। इन नियमों को जानना आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण है। हम आपको अब एक-एक करके उन बदलावों के बारे में जानकारी दे रहे हैं। कोरोना काल में सारे अगस्त महीने में आप अपनी प्लानिंग पहले से कर लें, ताकि आपको भी पता रहे कि कहां पर खर्च करना है व कहां पर बचाना है।

आज से अनलॉक 3.0
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने 1 अगस्त से सारे देश में लागू होने जा रहे अनलॉक 3.0 के लिए गाइड लाइन जारी कर दिए हैं। इनके तहत कोरोना वायरस (COVID-19) कंटेनमेंट जोन्स के बाहर कई अन्य गतिविधियों को इजाजत दे दी गई है। वहीं कंटेनमेंट जोन्स में लॉकडाउन 31 अगस्त तक के लिए बढ़ा दिया गया है। नए दिशानिर्देशों के तहत देश में अनलॉक 3.0 में योगा इंस्टीट्यूट, जिम 5 अगस्त से खुल सकेंगे। इस बारे में स्वास्थ्य मंत्रालय SOP जारी करेगा। हालांकि सिनेमा हॉल, स्विमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थिऐटर, बार, ऑडिटोरियम, मेट्रो, असेंबली हॉल 31 अगस्त तक बंद रहेंगे।

एलपीजी की कीमतें 
सबसे पहले बात रसोई से प्रारम्भ करते हैं। ऑयल मार्केटिंग कंपनियां हर महीने की पहली तारीख को LPG रसोई गैस सिलेंडर व हवाई ईंधन की नयी कीमतों की घोषणा करती हैं। पिछले कुछ महीनों से कीमतों में इजाफा हो रहा है। वैसे अगस्त के महीने में ऑयल कंपनियों ने बड़ी राहत देते हुए एलपीजी की कीमतों किसी तरह की कोई बढ़ोतरी नहीं की है।  

इन बैंकों में मिनिमम बैलेंस रखना जरूरी
कैश इनफ्लो व डिजिटल ट्रांजेक्शन को बढ़ावा देने के लिए कई बैंकों ने 1 अगस्त से न्यूनतम बैलेंस पर चार्ज लगाने का ऐलान किया है। बैंकों में तीन मुफ्त लेनदेन के बाद शुल्क भी वसूला जाएगा। बैंक ऑफ महाराष्ट्र (Bank of Maharashtra), एक्सिस बैंक (Axis Bank), कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra bank) व RBL Bank में यह चार्ज वसूला जाएगा। बैंक ऑफ महाराष्ट्र में सेविंग एकाउंट वालों को मेट्रो व शहरी क्षेत्रों में न्यूनतम बैलेंस 2,000 रुपये रखने होंगे, जो पहले 1,500 रुपये था। कम बैलेंस होने पर बैंक मेट्रो व शहरी क्षेत्रों में 75 रुपये, अर्ध-शहरी क्षेत्र में 50 रुपये व ग्रामीण क्षेत्र में 20 रुपये हर महीने शुल्क लेगा।