प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता ने किया प्रदर्शन

प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता ने किया प्रदर्शन

इस समय देश में प्याज के बढ़ते दामों पर सियासत समाप्त नहीं हो रही है। ताजा मुद्दे में आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता व राज्यसभा मेम्बर संजय सिंह व सुशील गुप्ता ने मंगलवार को प्याज की बढ़ती कीमतों को लेकर संसद परिसर में प्रदर्शन किया। संजय सिंह ने बोला कि 32 हजार टन प्याज सड़ गए लेकिन केन्द्र सरकार ने कोई कार्रवाई नहीं की। उन्होंने बोला कि केन्द्र की लापरवाही की वजह से प्याज सड़ गए लेकिन उन्हें कम कीमतों पर नहीं बेचा गया।

 

सोमवार को इससे पहले संजय सिंह ने केंद्रीय मंत्री राम विलास पासवान को लेटर लिखकर 32 हजार टन प्याज सड़ने से संबंधित प्रमाण मांगा था। संजय सिंह ने पासवान को लिखे लेटर में पूछा है कि क्या 32 हजार टन प्याज एक ही दिन में सड़ गया? अगर प्याज सड़ने की जानकारी मिली तो समय रहते उसे सस्ते दामों पर जनता व प्रदेश सरकारों को क्यों नहीं उपलब्ध कराया गया? क्या 32 हजार टन प्याज सड़ने का कोई प्रमाण आपके पास है? यदि है तो उसकी वीडियो व भंडारण संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराई जाए।

 

इसके अतिरिक्त संजय सिंह ने लेटर में लिखा कि देश की जनता इस बात से दंग है कि 32 हजार टन प्याज सड़ गया व सरकार सोती रही। लोगों को ऐसा भी संदेह है कि प्याज कागजों में सड़ाया गया है। व इसमें बड़ा घोटाला किया गया है। क्या सरकार ने इस विषय में कोई जाँच प्रारम्भ कराई? जिन अधिकारियों की लापरवाही के कारण प्याज सड़ा है उन पर अब तक क्या कार्रवाई की गई? उन्होंने पासवान से पूछा है कि जब आपको यह पता था प्याज का उत्पादन इस साल घटा है तो समय रहते सस्ते दामों पर विदेश से प्याज आयात क्यों नही किया गया? आयात-निर्यात से संबंधित सभी लेटर उपलब्ध कराए जाएं।