साइबर अपराध से बचने के लिए ऐसे अपनाये शिकायतकर्ता, दे इन बात पर खास ध्यान

साइबर अपराध से बचने के लिए ऐसे अपनाये शिकायतकर्ता, दे इन बात पर खास ध्यान

देश-दुनिया में साइबर अपराध (Cybercrime) लगातार बढ़ता जा रहा हैं। साइबर अपराध की बड़ती जड़ो ने लोगों के बैक एकाउंट तक अपनी पहुंच बना ली है। ऐसा ही एक मुद्दा कोलकता में देखने को मिला है, कोलकाता (Kolkata) शहर के यादवपुर (Yadavpur) इलाके में 30 से अधिक लोगों ने शिकायत दर्ज कराई। इन सभी लोगों के खातों से पिछले तीन दिनों के दौरान बड़ी रकम निकाली गई है।

एक ही जगह के ज्यादातर शिकायतकर्ता
पुलिस के पास शिकायत दर्ज होने के बाद जाँच में पता चला कि अधिकांश शिकायतकर्ता कोलकाता दक्षिणी हिस्से यादवपुर में सुकांता सेतु के आसपास के व्यक्तिगत या राष्ट्रीयकृत बैंकों के एटीएम प्रयोग किए थे। जिन लोगों के बैंक एकाउंट से रुपया निकाला गया उन सभी के पास उनका एटीएम कार्ड सुरक्षित है।

एटीएम स्किमिंग का मामला

एक वरिष्ठ पुलिस ऑफिसर ने बताया कि पुलिस को शक है कि यह क्राइम दिल्ली, गुड़गांव व नोएडा के एटीएम का प्रयोग कर किया गया है। हालांकि मूल मालिकों के पास उनके डेबिट कार्ड उपस्थित थे। यह एटीएम स्किमिंग (एटीएम में एक छोटा यंत्र लगाकर कार्ड की जानकारी चुराने) का मुद्दा लगता है। उन्होंने बोला कि संभवत: जालसाजों ने ग्राहकों के पुराने डेटा का प्रयोग किया है।

एक साथ दर्ज की गई 9 शिकायतें
शनिवार को यादवपुर पुलिस थाने में एक के बाद एक 9 शिकायतें दर्ज कराई गई। लेकिन सोमवार तक शिकायतों की कुल संख्या 32 पर पहुंच गई।  लोगों के एकाउंट से एटीएम के जरिए रुपये निकाल लेने का मुद्दा सामने आने के बाद से पुलिस और विभिन्न सरकारी और व्यक्तिगत बैंकों के ऑफिसर चिंताएं बढ़ने लगी हैं। क्योंकि विभिन्न बैंकों के ग्राहकों के खाते से रुपये निकाले गए हैं। (भाषा इनपुट के साथ)