स्किन को होने कि सम्भावना है ये नुकसान, आइए जानिए

स्किन को होने कि सम्भावना है ये नुकसान, आइए जानिए

संसार भर में तेजी से फैल रही कोरोना वायरस (Corona virus) जैसी महामारी को रोकने के लिए डब्ल्यूएचओ (WHO) और अन्य संस्थाओं द्वारा बार-बार हैंडवॉश(Handwash) करने व सेनेटाइजर(Sanitizer) यूज करने की सलाह दी है।

विशेषज्ञों का बोलना है कि एक समय में कम से कम 20 सेकण्ड तक हाथ धोने से इस वायरस का असर कम होता है। दिन में कई बार हैंडवास व हैंड सैनिटाइजर यूज करने से हाथ की स्किन रूखी व बेजान हो सकती है। इसलिए हाथ धोने के बाद कोई मॉस्चराइजेशन से भरभूर क्रीम को हाथ पर लगाना चाहिए व हाथ को जल्दी-जल्दी धोना बंद करना चाहिए। लंदन में रहने वाली डर्मटोलॉजिस्ट (त्वचा रोग विशेषज्ञ) डाक्टर अंजली महतो ने mensxp को वार्ता के दौरान इससे बचने के लिए तरीका बताया। आइए जानते हैं

स्किन को होने कि सम्भावना है ये नुकसान
www.mensxp.com की समाचार के अनुसार डॉ मेहतो ने अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में लिखा कि साबुन, डिटर्जेंट व अल्कोहल कारागार का बार-बार उपयोग एक आम व जरूरी कारण है। लेकिन ये उत्पाद हमारे एपिडर्मिस की ऊपरी परत में प्रोटीन को नुकसान पहुंचा सकते हैं व वसा में बदलाव का कारण बन सकते हैं। इससे नैदानिक हाथ लाल, खुरदरे, खुरदरे, सूखे, व मुरझाए दिखने लगते हैं। इससे स्कीन में छोटे-छोटे कट लगते हैं। यह आपको हाथों में जलन या झुनझुनी की अनुभूति होती है या खुजली से महसूस होता है। इसके ज्यादा उपयोग से स्कीन फफोलेदार व भयावह हो सकती है।


एंटी-माइक्रोबाएल हैंड वॉश का करें उपयोग
डाक्टर अंजली महतो एंटी-माइक्रोबाएल हैंड वॉश का उपयोग करने का सुझाव देती हैं। उनका है कि साबुन से हाथ धोने से स्कीन रुखी व बेजान हो जाती है, ऐसे में इस हैंड वॉश का उपयोग करें जो तुलनात्मक रूप से हाथों की स्कीन को कम नुकसान पहुंचाती है। इसके साथ ही शिया बटर व एलोए वेरा से बने प्रोडक्ट भी उपयोग में लिए जा सकते हैं।

-

खुशबू रहित क्रीम और माइश्चोराइजिंग मास्क
हाथ सूखने के बाद उस पर सेनेटाइजर कारागार लगाएं व फिर कोई भी खुशबू रहित हैंड क्रीम उपयोग में लें। इसके अतिरिक्त माइश्चोराइजिंग मास्क भी अप्लाई कर सकते हैं। ऐसी कई क्रीम व मॉइश्चराइजिंग मास्क मार्केट में उपलब्ध हैं।

हाथों को अच्छी तरह सुखाएं
स्कीन विशेषज्ञ का बोलना है कि हाथ धोने के बाद उन्हें अच्छी तरह से सुखाएं व फिर उन पर क्रीम लगाएं। हाथ अच्छे से नहीं सुखाते हैं तो उनका प्राकृतिक ऑयल समाप्त होने लगता है। हाथों को अच्छे से सुखाने से बैक्टीरिया व वायरस भी मर जाते हैं। गीली स्कीन से इनके फैलने के संभावना बने रहते हैं। इसके अतिरिक्त सिंगल यूज नेपकिन का उपयोग करें। अपने कपड़ों से हाथ पोंछने की आदत को बदलें, इससे भी बैक्टीरिया फैल सकते हैं।