राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने विधायकों को जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट करने पर कही यह बड़ी बात

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने विधायकों को जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट करने पर कही यह बड़ी बात

राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने विधायकों को जयपुर से जैसलमेर शिफ्ट करने पर कहा, बहुत ज्यादा दिनों से विधायक वहां रह रहे थे, मानसिक रूप से प्रताड़ित हो रहे थे. उनपर बाहरी दबाव का कम करने के लिए यहां शिफ्ट किया गया.


गहलोत गुट के विधायक जैसलमेर के सूर्यगढ़ पहुंचे
जयपुर से जैसलमेर के लिए रवाना हुए गहलोत गुट के विधायक जैसलमेर पहुंच गए हैं. विधायक जैसलमेर के सूर्यगढ़ पहुंचे हैं.
 
महेश जोशी ने उच्चतम न्यायालय का दरवाजा खटखटाया
राजस्थान के बर्खास्त उपुख्यमंत्री सचिन पायलट सहित कांग्रेस पार्टी के 19 बागी विधायकों के मुद्दे में हाई कोर्ट के आदेश के विरूद्ध राजस्थान कांग्रेस पार्टी के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने शुक्रवार को शीर्ष न्यायालय में याचिका दायर की. हाई कोर्ट ने इन विधायकों के मुद्दे में यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया था. पार्टी के मुख्य सचेतक महेश जोशी ने विधान सभा अध्यक्ष सी पी जोशी द्वारा हाई कोर्ट के आदेश को चुनौती देने के दो दिन बाद याचिका दायर की है. अधिवक्ता वरूण चोपड़ा के माध्यम से दायर इस याचिका में बोला गया है कि संविधान की शीर्ष न्यायालय के किहोता होलोहान प्रकरण में 1992 में दी गयी व्यवस्था के आलोक में हाई कोर्ट की यह कार्यवाही असंवैधानिक व अवैध थी.


गहलोत ने खरीद-फरोख्त का लगाया आरोप
सीएम अशोक गहलोत का बोलना है कि 14 अगस्त से विधानसभा सत्र की आरंभ होने की घोषणा के बाद से विधायकों की खरीद-फरोख्त के रेट (दाम) बढ़ गए हैं. इसी वजह से उन्होंने सभी विधायकों को राजधानी जयपुर से 550 किलोमीटर दूर जैसलमेर शिफ्ट करने का निर्णय लिया है. उन्होंने पत्रकारों को विधानसभा की व्यापार सलाहकार समिति का जिक्र करते हुए कहा, 'बहुमत परीक्षण होगा. हम विधानसभा में जाएंगे. बीएसी इसका निर्णय लेगी.' गहलोत ने बोला कि पहले पहली किस्त के रूप में 10 करोड़ रुपये व दूसरी के रूप में 15 करोड़ रुपये दिए जा जा रहे थे. अब ये रेट बढ़ गए हैं.

विधायकों के विलय को लेकर गहलोत ने पूछे सवाल
गहलोत ने कहा, 'भाजपा ने टीडीपी के चार सांसदों को राज्यसभा के अंदर रातों रात मर्जर (विलय) करवा दिया, वो मर्जर तो ठीक है व राजस्थान में छह विधायक मर्जर कर गए कांग्रेस पार्टी में वो मर्जर गलत है, तो फिर बीजेपी का चाल-चरित्र-चेहरा कहां गया? राज्यसभा में मर्जर हो वो ठीक है व यहां मर्जर हो वो गलत है?'