मुंबई आते ही तत्कालीन, उप सीएम को सिंचाई घोटाले में पूर्णत: मिली क्लीन चीट

मुंबई आते ही तत्कालीन, उप सीएम को सिंचाई घोटाले में पूर्णत: मिली क्लीन चीट

मुंबई आते ही तत्कालीन उप सीएम व को सिंचाई घोटाले में पूर्णत: क्लीन चीट दी गई है।एन्टी भ्रष्टाचार ब्यूरो की एसपी रश्मी नांदेडकर ने मुंबई उच्च न्यायालय की नागपुर बेंच के सामने शपथपत्र दाखिल कर बताया है कि अजित पवार के विरूद्ध कोई भी फौजदारी कार्रवाई नहीं की जा सकती, ऐसा उसमें स्पष्ट लिखा गया है। 302 टेंडर्स की जाँच करते वक़्त पाया गया कि 17 केसों में अजित पवार के विरूद्ध कोई भी मुद्दा नहीं बनता है।

हाईकोर्ट में दाखिल शपथ लेटर में ये भी बोला गया है कि ये जबाबदेही उनकी बनती है, जिन्होंने योजना लागू की। VIDC चेयरमैन व सिंचाई मंत्री पर इस सारे प्रकरण में कोई आपराधिक मुद्दा नहीं बनता है।