महिला वेटनरी चिकित्सक से गैंगरेप व हत्या के मामले में हो रहे हर दिन नए खुलासे, जानिए

महिला वेटनरी चिकित्सक से गैंगरेप व हत्या के मामले में हो रहे हर दिन नए खुलासे, जानिए

 

महिला वेटनरी चिकित्सक (Veterinary Doctor) से गैंगरेप व हत्या के मामले में हर दिन नए खुलासे हो रहे हैं।  बताया जा रहा है कि घटना से करीब 66 घंटे पहले मुख्य आरोपी मोहम्मद अली को पुलिस ने बिना लाइसेंस के ट्रक चलाते हुए पकड़ा था, लेकिन पुलिस अधिकारियों को चकमा देकर वो ट्रक के साथ फरार हो गया। अब उसकी गिरफ्तारी के बाद पता चला है कि वो पिछले दो वर्ष से बिना लाइसेंस के ही ट्रक चला रहा था।

पुलिस को ऐसे दिया चकमा
अंग्रेजी अखबार द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, 24 नवंबर को अली ने कर्नाटक के गंगावटी इलाके में ट्रक पर ईंट लोड किया। ये ईंट उसे हैदराबाद में पहुंचाना था। रास्ते में अली ने घटना के दो व आरोपी नवीन व चेन्ना केशावुलु को भी बुला लिया। इन सबने पास की झाड़ी में कुछ लोहे के रोड छिपा रखे थे। इन सबने इसे ट्रक पर लोड किया। फिर ये हैदराबाद की तरफ चल पड़े।

रिपोर्ट के मुताबिक, 25 तारीख को प्रातः काल करीब 4 बजे महबूबनगर में रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी के अधिकारियों ने ट्रक की चेकिंग की। पता चला कि उसके पास सारे कागजात थे, लेकिन ड्राइविंग लाइसेंस नहीं था। इस बीच अली ने गाड़ी बेकार होने का बहाना किया व फिर वो आकस्मित ही फरार हो गया।

चंद्रशेखर राव कहे जल्द मिलेगा न्याय
इस बीच घटना के चार दिन बाद प्रदेश के सीएम केसीआर ने पहली रिएक्शन दी है। उन्होंने इस मुद्दे में जल्द से जल्द न्याय के लिए फास्ट ट्रेक न्यायालय बनाने की घोषणा की। के चंद्रशेखर राव ने इस मुद्दे में पहली बार रिएक्शन देते हुए सभी जिम्मेदार अधिकारियों को आदेश दिए कि इस मुद्दे की जाँच तेजी से की जाए। सीएम केसीआर ने कहा, 'दोषियो को जल्द से जल्द पकड़कर कड़ी से कड़ी सजा दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने इस मुद्दे के लिए फास्ट ट्रेक न्यायालय के गठन के आदेश भी दिए।