जुलाई का महीना आपके लिए कई बदलाव लेकर आ रहा

जुलाई का महीना आपके लिए कई बदलाव लेकर आ रहा

जुलाई का महीना आपके लिए कई परिवर्तन लेकर आ रहा है, जिसका असर आपकी जेब पर सीधा पड़ सकता है. यदि आप स्‍टेट बैंक ऑफ इण्डिया के ग्राहक हैं तो आपको एटीएम और चेक से भुगतान के लिए शुल्‍क देना होगा. वहीं डीएल बनवाने का भी उपाय बदलेगा और टीडीएस का दोगुना भुगतान करना होगा. इसके अतिरिक्त आधार पैन लिंक करने पर दोगुना चार्ज लगेगा. इसके साथ ही LPG गैस के मूल्य भी बढ़ सकते हैं.

आधार पैन कार्ड लिंक चार्ज
सीबीडीटी की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक एक जुलाई से आधार को पैन से लिंक करने पर ग्राहकों को 500 की स्थान अब 1000 रुपए का चार्ज देना होगा. यदि आपने अभी तक अपने आधार-पैन लिंक (Aadhaar-PAN Linking) को लिंक नहीं कराया है, तो जल्द करा लें. सीबीडीटी ने 29 मार्च, 2022 को एक नोटिफिकेशन जारी किया था.

SBI Basic Saving Deposit Account (शुन्‍य बचत खाता)
स्‍टेट बैंक ऑफ इण्डिया ने बेसिक सेविंग डिपॉजिट खाता के शुल्‍क में कई तरह का परिवर्तन किया है. अब ग्राहकों को बैंक से पैसे निकालने के लिए और चेक से पेमेंट करने के लिए नए सर्विस चार्ज का भुगतान करना होगा. बेसिक सेविंग डिपॉजिट एकाउंट के ग्राहकों को एक महीने में सिर्फ चार बार ही एटीएम से पैसे निकासी के लिए फ्री ट्रांजैक्‍शन मिलेगा. इससे अधिक बार निकालने पर आपको 15 रुपए प्‍लस GST देना होगा. इसके अतिरिक्त एक एसबीआई ग्राहक 10 चेक लीव का इस्तेमाल कर सकते हैं, यदि एक्‍स्‍ट्रा चेक का इस्तेमाल करते हैं तो 10 एक्‍स्‍ट्रा पर 40 रुपए और GST जबकि 25 चेक पर 75 रुपए प्‍लस GST देना होगा.

बढ़ सकते हैं LPG गैस सिलेंडर के दाम
हर महीने की पहली तारीख को एलपीजी गैस सिलेंडर के मूल्य बढ़ा दिए जाते हैं. ऐसे में हो सकता है कि 1 जुलाई को घरेलू और कमर्शियल सिलेंडर की कीमतों को बढ़ा दिया जाएगा.

दोगुना कटेगा टीडीएस
अगर आपने अभी तक इनकम टैक्‍स रिटर्न दाखिल नहीं किया है तो आज और अभी यह काम कर लें, नहीं तो आपसे दोगुना टीडीएस वसूला जाएगा. हालाकि आईटीआर भरने की डेडलाइन 15 जुलाई है, लेकिन ऐसे लोग जिनके टीडीएस की रकम 50 हजार रुपए या अधिक है और इन्‍होंने दो वर्षों से आईटीआर नहीं भरा है तो अब 1 जुलाई से टीडीएस की दरें 10 से 15 फीसदी कटेगा, पहले यह हिस्‍सेदारी 5 से 10 फीसदी थी.

ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आरटीओ जाने की आवश्यकता नहीं
लर्नर्स ड्राइविंग लाइसेंस को अब 1 जुलाई से ऑफिस जाने की आवश्यकता नहीं होगी. किसी रजिस्‍ट्रर्ड ट्रेनिंग स्‍कूल से आपको ट्रेनिंग लेनी होगी. पूरी तरह से ट्रेनिंग लेने के बाद आपको डीएल मिल जाएगा.

नया IFSC कोड
केनरा बैंक में मर्जर होने के बाद अब सिंडिकेंट बैंक के ग्राहकों को नया आईएफएससी कोड जारी किया जाएगा. ग्राहकों को एनएफटीआटीजीएस और आईएमपीएस के जरिए फंड लेने के लिए नए IFSC कोड का इस्तेमाल करना होगा.


सीएम योगी ने पेश किया 100 दिनों का रिपोर्ट कार्ड

सीएम योगी ने पेश किया 100 दिनों का रिपोर्ट कार्ड

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने दूसरे कार्यकाल के शुरुआती 100 दिनों में किए गए कार्यों का ‘रिपोर्ट कार्ड’ पेश किया. इसके अतिरिक्त दिल्ली विधानसभा ने सोमवार को विधायकों के वेतन एवं भत्तों में 66 फीसद से अधिक की वृद्धि से संबंधित विधेयकों को स्वीकृति प्रदान कर दी.

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने दूसरे कार्यकाल के शुरुआती 100 दिनों में किए गए कार्यों का ‘रिपोर्ट कार्ड’ पेश किया. इसके अतिरिक्त दिल्ली विधानसभा ने सोमवार को विधायकों के वेतन एवं भत्तों में 66 फीसद से अधिक की वृद्धि से संबंधित विधेयकों को स्वीकृति प्रदान कर दी.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बोला है कि राष्ट्र के स्वतंत्रता संग्राम का इतिहास कुछ सालों या कुछ लोगों तक सीमित नहीं है, बल्कि यह राष्ट्र के हर कोने से दिए गए बलिदान का इतिहास है. मोदी ने आंध्र प्रदेश के भीमावरम में अल्लूरी सीताराम राजू की 30 फुट की कांस्य प्रतिमा का अनावरण करने के बाद बोला कि महान स्वतंत्रता सेनानी की 125वीं जयंती और रम्पा विद्रोह की शताब्दी साल भर मनाई जाएगी. गौरतलब है कि ‘मन्यम वीरुडु’ (वन नायक) के नाम से लोकप्रिय अल्लूरी ने 1922 में प्रारम्भ हुए रम्पा विद्रोह का नेतृत्व किया था. मोदी ने कहा, ‘‘स्वतंत्रता संग्राम सिर्फ कुछ वर्षों, कुछ क्षेत्रों या कुछ लोगों का इतिहास नहीं है. यह राष्ट्र के हर नुक्कड़ और हर कोने से दिए गए बलिदान का इतिहास है.

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को अपने दूसरे कार्यकाल के शुरुआती 100 दिनों में किए गए कार्यों का ‘रिपोर्ट कार्ड’ पेश किया. सीएम ने अपने दूसरे कार्यकाल के 100 दिन पूरे होने पर यहां प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपनी इस शुरुआती कार्य अवधि का ब्योरा पेश करते हुए बोला कि ये शुरुआती 100 दिन सेवा, सुरक्षा और सुशासन के प्रति समर्पित रहे. उन्होंने बोला कि गवर्नमेंट ने ‘जो बोला सो किया’ के इस परंपरागत अभियान को आगे बढ़ाते हुए निर्धारित लक्ष्य से अधिक काम किया है