जानिए, आधार कार्ड क्यो होता हैं प्रत्येक शख्स के लिए एक जरूरी डॉक्यूमेंट

जानिए, आधार कार्ड क्यो होता हैं प्रत्येक शख्स के लिए एक जरूरी डॉक्यूमेंट

आधार कार्ड (Aadhaar Card) प्रत्येक शख्स के लिए एक जरूरी डॉक्यूमेंट है। आधार कार्ड की सम्मान पहले से बढ़ गई है। कई बार इसके बिना कार्य रूक जाता है। आधार कार्ड बनवाने के लिए पहचान लेटर (ID) व एड्रेस फ्रूफ (Address Proof) जैसे डॉक्यूटमेंट्स की आवश्यकता होती है। लेकिन अब किसी डॉक्यूमेंट के भी आधार कार्ड बन सकता है। आप आधार केन्द्र पर उपस्थित इंट्रोड्यूसर (Introducers) की मदद ले सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे बिना डॉक्यूमेंट्स बनवाया जा सकता है आधार कार्ड?

इंट्रोड्यूसर की ले सकते हैं मदद- भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने बिना डॉक्यूमेंट्स आधार बनवाने की सुविधा दी है। इंट्रोड्यूसर (Intorducer) वह आदमी होता है जिसे रजिस्ट्रार के द्वारा वहां के ऐसे निवासियों को सत्यापित करने के लिए अधिकृत किया जाता है, जिनके पास PoI या PoA नहीं है। इंट्रोड्यूसर के पास आधार कार्ड होना जरूरी है व किसी आवेदक के साथ उसका पंजीकरण सेंटर पर उपस्थित रहना आवश्यक है।

 

3 महीने होती है वैलिडिटी- इंट्रोड्यूसर के लिए आवेदक की पहचान व अड्रेस कन्फर्म करना महत्वपूर्ण है। उन्हें एनरोलमेंट फॉर्म पर इसके लिए हस्ताक्षर करना होता है। UIDAI की ओर से जारी सर्कुलर के मुताबिक, इंट्रोड्यूसर के लिए आवदेक के नाम सर्टिफिकेट जारी करना होता है। इसकी वैधता 3 महीने होती है।

HoF के जरिए भी बन सकता है आधार- अगर आपके पास पहचान लेटर व एड्रेस प्रूफ नहीं है तो भी वह आधार कार्ड के लिए अप्लाई कर सकता है, इसके लिए उसका नाम परिवारिक किसी डॉक्यूमेंट्स जैसे राशन कार्ड में होना चाहिए। ऐसे मामलों में यह भी महत्वपूर्ण है कि पहले परिवार के मुखिया का PoI व PoA डॉक्युमेंट्स के जरिए आधार बना हो। इसके बाद परिवार का मुखिया परिवार के दूसरे सदस्यों का इंट्रोड्यूसर बन सकता है।