केरल पुलिस ने शुरू की स्त्रियों व बुजुर्गों की सुरक्षा के लिए "हेल्पलाइन नंबर"

केरल पुलिस ने शुरू की स्त्रियों व बुजुर्गों की सुरक्षा के लिए "हेल्पलाइन नंबर"

केरल पुलिस (Kerala Police) ने स्त्रियों व बुजुर्गों की सुरक्षा के लिए मंगलवार को हेल्पलाइन (helpline number) नंबर जारी किया है। केरल पुलिस ने रात में सड़क पर किसी कारण से फंसी स्त्रियों व बुजुर्गों की मदद के लिए निजहाल नामक अभियान प्रारम्भ किया है। जिसके तहत मुसीबत में फंसे लोग पुलिस सहायता के लिए 112 नंबर डायल कर सकते हैं।

पुलिस विभाग ने एक बयान जारी कर कहा, ‘ऐसी महिलाएं व बुजुर्ग जो बेवक्त किसी भी कारण से मसलन वाहन बेकार होने अथवा टायर पंचर होने से सड़क में फंस जाते हैं, वे प्रदेश में कहीं से व किसी भी वक्त 112 नंबर पर कॉल कर सकते हैं। ’बयान में यह भी बोला गया कि इससे रात में यात्रा करने वाली स्त्रियों को भी मदद मिल सकेगी।

बताते चलें कि बीते कुछ महीने पहले केरल में एक महिला पुलिस ऑफिसर पर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिया गया था। जिसके चलते 34 वर्षीय महिला पुलिस ऑफिसर की मृत्यु हो गई थी। दरअसल पुलिस ऑफिसर सौम्‍या पुष्‍पाकरन मावेलिक्कारा के वल्लीकुन्नम पुलिस थाने में तैनात थी। ड्यूटी के बाद घर लौट के दौरान उस पर कथित रूप से पेट्रोल छिड़ककर आग के हवाले कर दिया गया था।

पुलिस ने एक प्रत्यक्षदर्शी के हवाले से बोला था कि सौम्या पुष्पाकरन उस दिन कार्य के बाद घर जा रही थी, तब अजस ने एक कार से उसका पीछा किया। उसने उसके टू-व्हीलर को टक्कर मारकर गिरा दिया व धारदार हथियार से उसे जख्मी कर दिया। सौम्या ने पास के घर में छिपने की प्रयास की लेकिन अजस ने उसका पीछा किया, उसे बाहर खींचा, पेट्रोल छिड़का व आग लगा दी। पुलिस ने बताया कि महिला ने अजस के विवाह के प्रस्ताव को ठुकरा दिया था।