बिलाल अहमद मीर व मुजफ्फर अहमद भट्ट के विरूद्ध दायर चार्जशीट में इसका बात का किया गया दावा, जाने

बिलाल अहमद मीर व मुजफ्फर अहमद भट्ट के विरूद्ध दायर चार्जशीट में इसका बात का किया गया दावा, जाने

हाल ही में कुछ समय पहले ही पाक (Pakistan) के आंतकी संगठन जैश ए मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) ने 14 फरवरी को हुए पुलवामा कार हमले के बाद देश की राजधानी दिल्ली में कुछ व हमले की तैयारी की थी। वहीं राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (एनआईए) के मुताबिक, आतंकवादी संगठन के एक गुर्गे ने दिल्ली में इसके लिए रेकी भी की थी। जंहा दिल्ली के एनआईए न्यायालय में 16 सितंबर को जैश-ए-मोहम्मद के आंतकी सज्जाद अहमद खान, तनवीर अहमद गेनिए, बिलाल अहमद मीर व मुजफ्फर अहमद भट्ट के विरूद्ध दायर चार्जशीट में इसका दावा किया गया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सज्जाद अहमद खान को पुरानी दिल्ली से मार्च में हिरासत में लिया गया था। जिसके बाद उसने कथित तौर पर जरूरी सरकारी जगहों साउथ ब्लॉक व केन्द्रीय सचिवालय व दिल्ली के सिविल लाइंस, बीके दत्त कॉलोनी, कश्मीरी गेट, लोधी एस्टेट, मंडी हाउस, दरियागंज व गाजियाबाद की रेकी की थी। खान की गिरफ्तारी के बाद तीन अन्य लोगों की पकड़ा गया था।

मिली जानकारी के लिए हम आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि उन आतंकवादियों के विरूद्ध दायर चार्जशीट की समीक्षा की है, जिसे सार्वजनिक होना अभी बाकी है। वहीं इसके मुताबिक, ये चारों कथित तौर पर लगातार मुदास्सिर अहमद से सम्पर्क में थे। मुदास्सिर पुलवामा हमले का मास्टरमाइंड था जो जम्मू और कश्मीर के त्राल में 10 मार्च को मारा गया।