कैग ने अपनी रिपोर्ट कही यह बात- "वंदे भारत एक्सप्रेस व तेजस एक्सप्रेस जैसे...

कैग ने अपनी रिपोर्ट कही यह बात- "वंदे भारत एक्सप्रेस व तेजस एक्सप्रेस जैसे...

 

कैग (CAG) ने अपनी रिपोर्ट में बोला है कि पारंपरिक फायदेमंद एसी थ्री टायर श्रेणी के अतिरिक्त वातानुकूलित चेयर कार सेवा इंडियन रेलवे वे (Indian Railway) की एकमात्र मुनाफेवाली सेवा के रूप में उभरी है। उसने बोला है कि यह वंदे भारत एक्सप्रेस व तेजस एक्सप्रेस जैसे एसी चेयर कार ट्रेनें प्रारम्भ करने को ठीक ठहराता है जिनमें शयनयान श्रेणी सेवाएं नहीं हैं।

नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक ने सोमवार को संसद में पेश अपनी रिपोर्ट में बोला है, ‘ट्रेन सेवाओं की सभी श्रेणियां 2016-17 में घाटे में रहीं, सिर्फ एसी थ्री टायर व एसी चेयर कार सेवाएं अपवाद रहीं जो अपनी संचालन लागत निकाल पायीं व मुनाफा कमायीं। ’

बताते चलें कि इंडियन रेलवे को लेकर  नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक की रिपोर्ट में कई जानकारी सामने आई है। रिपोर्ट में रेलवे का परिचालन अनुपात वित्त साल 2017-18 में 98.44 फीसदी दर्ज किया गया, जो पिछले 10 वर्षो में सबसे बेकार है। रेलवे में इस परिचालन अनुपात का तात्पर्य यह है कि रेलवे ने 100 रूपये कमाने के लिये 98.44 रूपये व्यय किये। रिपोर्ट के अनुसार, इंडियन रेलवे का परिचालन अनुपात वित्त साल 2017-18 में 98.44 फीसदी रहने का मुख्य कारण पिछले साल 7.63 फीसदी संचालन व्यय की तुलना में उच्च वृद्धि दर का 10.29 फीसदी होना है।  कैग की रिपोर्ट में सिफारिश की गई है कि रेलवे को आंतरिक राजस्व बढ़ाने के लिए तरीका करने चाहिए ताकि सकल व अलावा बजटीय संसाधनों पर निर्भरता रोकी जा सके।

वहीं कैग की रिपोर्ट के हवाले से कांग्रेस पार्टी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने नरेन्द्र मोदी सरकार पर बड़ा हमला किया है। उन्होंने बोला है कि बीजेपी (BJP) सरकार ने इंडियन रेलवे को बुरी स्थिति में ला दिया है व अब वह इसे बेचने की कवायद शुरू कर देगी। प्रियंका ने ट्वीट कर कहा, ' इंडियन रेलवे देश की ज़िंदगी रेखा है। अब बीजेपी सरकार ने इंडियन रेलवे को भी सबसे बुरी हालत में लाकर खड़ा कर दिया है। '