मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के एक वीडियो ने पैदा की यह बड़ी हलचल

 मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के एक वीडियो ने पैदा की यह बड़ी हलचल

राजस्थान में जारी सियासी खींचतान में जहां सीएम अशोक गहलोत धीरे-धीरे अपनी पकड़ मजबूत कर रहे हैं. वहीं, अब मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के बेटे वैभव गहलोत के एक वीडियो ने सियासी गलियारों में हलचल पैदा कर दी है. बताते चलें कि इससे पहले कथित ऑडियो टेप का मामला भी राजस्थान की सियासत में भूचाल लेकर आया था. 


दरअसल, एक दिन पहले ही मुख्यमंत्री के बेटे वैभव गहलोत ने राजस्थान के स्पीकर सीपी जोशी के घर जाकर मुलाकात की थी. उन्होंने इस मुलाकात की फोटोज़ भी सोशल मीडिया पर साझा कीं. इन तस्वीरों के माध्यम से पता चल रहा है कि वैभव उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं देने गए थे. हालांकि, अब इस मुलाकात का एक वीडियो सामने निकलकर आया है, जिसमें स्पीकर व वैभव के बीच सरकार को बचाने को लेकर चर्चा की जा रही है. 


वायरल वीडियो में स्पीकर को कहते हुए सुना जा सकता है कि अगर 30 आदमी निकल जाते हैं (पार्टी छोड़ देते हैं) , तो आप कुछ भी नहीं कर सकते हैं. मुलाकात का यह वीडियो वायरल होने के बाद पार्टी में हड़कंप मच गया है. हालांकि, अमर उजाला इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है.

स्पीकर कह रहे हैं, 'मामला अभी बहुत टफ है.' इसके जवाब में वैभव कहते हैं, 'राज्यसभा चुनाव के बाद 10 दिन निकाला फिर वापस रखा.' इस पर जोशी कहते हैं, '30 आदमी निकल जाते हैं तो आप कुछ नहीं कर सकते. हल्ला करके रह जाते, वो सरकार गिरा देते. अपने हिसाब से उन्होने कांटैक्ट किया इसलिए हो गया. दूसरे के बस की बात नहीं थी.'

भाजपा ने कहा हमला
दूसरी तरफ, इस वीडियो के सामने आने के बाद बीजेपी गहलोत सरकार पर हमलावर हो गई है. प्रदेश अध्यक्ष सतीश पूनिया ने बोला कि गहलोत सरकार को बचाने के सबसे ज्यादा चिंता स्पीकर सीपी जोशी व मुख्यमंत्री के बेटे वैभव गहलोत को हो रही है. इस वीडियो से स्पीकर की किरदार के साथ-साथ सारे सरकार की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह खड़ा हो गया है.