महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,218 नए मामले सामने आए

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस संक्रमण के 5,218 नए मामले सामने आए

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 वायरस संक्रमण के 5,218 नएमामले सामने आए है जबकि एक रोगी की मृत्यु हुई है. राज्य में Covid-19 से अब तक संक्रमित हो चुके रोगियों की संख्या बढ़कर 79,50,240 पर पहुंच गई और मृतकों का कुल आंकड़ा 1,47,893 हो गया.

देश में एक बार फिर से कोविड-19 वायरस के नए मामलों में वृद्धि देखने को मिल रही है. इस वृद्धि में सबसे अधिक मुद्दे महाराष्ट्र और दिल्ली में आ रहे हैं. गुरुवार को भी दोनों ही राज्यों में मामलों में वृद्धि देखी गई है. हालांकि राहत की बात यह है कि मृत्यु के मामलों में कोई खास वृद्धि नहीं हो रही है. हालांकि, दिल्ली और महाराष्ट्र में लगातार बढ़ते संक्रमण करने एक बार फिर से लोगों की चिंताएं बढ़ा दी हैं. सबसे बड़ा प्रश्न यही है कि क्या राष्ट्र में कोविड-19 वायरस की चौथी लहर आने वाली है? महाराष्ट्र में कोविड-19 वायरस के नए मुद्दे 5000 से अधिक आए हैं. जबकि दिल्ली में भी नए मामलों की संख्या लगभग दो हजार के करीब है. 

महाराष्ट्र में Covid-19 के 5,218 नए मुद्दे सामने आए

महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 वायरस संक्रमण के 5,218 नएमामले सामने आए है जबकि एक रोगी की मृत्यु हुई है. राज्य में Covid-19 से अब तक संक्रमित हो चुके रोगियों की संख्या बढ़कर 79,50,240 पर पहुंच गई और मृतकों का कुल आंकड़ा 1,47,893 हो गया. रिपोर्ट के मुताबिक, महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में कोविड-19 वायरस संक्रमण के 2,479 नए रोगियों की पहचान हुई. इसमें बताया गया है कि राज्य में बुधवार के मुकाबले बृहस्पतिवार को 60 प्रतिशत अधिक मुद्दे सामने आए. बुधवार को महाराष्ट्र में Covid-19 के 3,260 नए मुद्दे और तीन और मौतें दर्ज की गई थीं. सबसे अधिक 13,614 मुद्दे मुंबई में रिकॉर्ड किए गए थे. पड़ोसी ठाणे जिले में 5,488 और पुणे में 2,443 रोगी संक्रमित मिले थे. 

दिल्ली में Covid-19 के 1,934 नए मामले

दिल्ली में Covid-19 के 1,934 नए मुद्दे सामने आए और संक्रमण रेट 8.10 फीसदी रही. पिछले 24 घंटे में महामारी से दिल्ली में किसी की मृत्यु का कोई मामला सामने नहीं आया है. नए मुद्दे कल किए गए 23,879 नमूनों के परीक्षण में सामने आए हैं. दिल्ली में नए मामलों के साथ कोविड-19 वायरस संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 19,27,394 हो गई है और मृतक संख्या 26,242 पर बनी हुई है. राष्ट्र में एक दिन में Covid-19 के 13,313 नए मुद्दे सामने आने के बाद कोविड-19 वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़कर 4,33,44,958 हो गई. वहीं, उपचाराधीन रोगियों की संख्या बढ़कर 83,990 पर पहुंच गई. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बृहस्पतिवार को सुबह आठ बजे जारी अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, हिंदुस्तान में संक्रमण से 38 और लोगों की मृत्यु के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 5,24,941 हो गई. 


मणिपुर भूस्खलन में असम के इतने लोगों की हुई मौत

मणिपुर भूस्खलन में असम के इतने लोगों की हुई मौत
  • मणिपुर भूस्खलन में 42 की हो चुकी है मौत
  • अब भी असम के 12 लोग हैं लापता
  • अब तक 18 लोगों को बचाया गया जिंदा

Manipur Landslide: मणिपुर भूस्खलन में मरने वाले असम के निवासियों की संख्या बढ़कर 9 हो गई है, जबकि 12 लोग अब भी लापता हैं. असम गवर्नमेंट ने मणिपुर के नोनी जिले में तुपुल रेलवे यार्ड निर्माण स्थल पर उपस्थित असम के 26 लोगों की सूची बनाई है. 29 जून को निर्माण स्थल पर भूस्खलन हुआ था. अब तक 42 लोगों के मृत्यु की पुष्टि हो चुकी है, जबकि 20 लोग अब भी लापता हैं और मौके से 18 लोगों को जिंदा निकाल लिया गया था. 

कैबिनेट मंत्री सर्च और रेसक्यू अभियान की कर रहे निगरानी

असम गवर्नमेंट के कैबिनेट मंत्री पीजूष हजारिका ने मणिपुर से लौटने के बाद पत्रकारों को बताया, ‘‘हमारे पास राज्य के उन 26 लोगों की सूची है, जो उस समय स्थल पर उपस्थित थे. उनमें से एक सेना का जवान और एक रेलवे इंजीनियर था, जबकि शेष निर्माण कंपनी के कर्मचारी थे.” असम के कैबिनेट मंत्री सर्च एंड रेसक्यू अभियान की नज़र करने के लिए शनिवार से मणिपुर में डेरा डाले हुए थे. 

 
असम के 5 कर्मी लौटे अपने घर

इस बीच, घटना में बचाए गए असम के 5 कर्मी आज सुबह मंत्री के साथ असम लौट आए और उन्हें प्रशासन मोरीगांव जिले में उनके घर भेजा रहा है. हजारिका ने बोला कि मलबे से रविवार को निकाले गए मजदूर के मृत शरीर को अभी राज्य वापस नहीं लाया जा सका, जबकि घटना में जान गंवाने वाले अन्य लोगों के मृत शरीर उनके घर पहुंच चुके हैं और उनका आखिरी संस्कार किया जा चुका है. मंत्री ने आगे कहा, “हमारी जानकारी के मुताबिक, अब तक राज्य के 12 लोग लापता हैं. दुर्घटनास्थल पर खोज एवं बचाव अभियान में विभिन्न एजेंसियों की टीमें लगी हैं.” 

वहीं, मोरीगांव के उपायुक्त पीआर घरफलिया ने बताया कि जिले के 6 मृतकों के मृत शरीर कुशतोली पहुंच चुके हैं. वे इसी क्षेत्र के रहने वाले थे. उन्होंने कहा, “आज सुबह दो मृत शरीर पहुंचे और कुछ देर बाद ही उनका आखिरी संस्कार कर दिया गया. रविवार को 4 मृत शरीर आए थे और शाम में उनका आखिरी संस्कार कर दिया गया.