जो भाई बहन के साथ होते हैं बड़े उन लोगो में होते हैं ये बदलाव, पढ़े

 जो भाई बहन के साथ होते हैं बड़े उन लोगो में होते हैं ये बदलाव, पढ़े

ये हकीकत है कि कभी-कभी भाई व बहन एक-दूसरे से  बहुत झगड़ते हैं, लेकिन अगर आपकी एक बहन है तो आपको उसका आभारी होना चाहिए. एक नए शोध के अनुसार जो लोग एक बहन के साथ बड़े होते हैं

वे उन लोगों की तुलना में ज्यादा खुश व सकारात्मक होते हैं जिनकी बहन नहीं होती. 

लाइचेस्टर की डी मोंटफोर्ट यूनिवर्सिटी व उत्तरी आयरलैंड की उल्स्टर यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने 570 लोगों पर सर्वेक्षण किया. इन लोगों की आयु 17 से 25 वर्ष के बीच थी. इस प्रतिभागियों से मानसिक स्वास्थ्य समेत कई सवाल पूछे गए. इस शोध के परिणामों से पता चलता है कि बहनें खुलकर बात करने के लिए प्रेरित करती हैं, जिससे लोगों का ज़िंदगी के प्रति रवैया सकारात्मक होता है. 

शोधकर्ता प्रोफसेर टोनी कैसेडी ने कहा, बहनें परिवारों में अधिक खुले संवाद व सामंजस्य को प्रोत्साहित करती दिखाई देती हैं. हालांकि, भाई इसका वैकल्पिक असर पैदा करते हैं. अच्छे मानसिक स्वास्थ्य के लिए भावानात्मक अभिव्यक्ति बहुत महत्वपूर्ण होती है व एक परिवार में बहनें इसे बढ़ावा देती है. 

लड़कों को बात न करने की प्रवृत्ति होती है. वहीं, लड़कियां चुप्पी को तोड़ने का कार्य करती हैं. शोधकर्ता ने कहा, मुझे लगता है इस शोध के परिणाम का उन लोगों द्वारा उपयोग किया जा सकता है जो परिवारों व बच्चों को दुख के समय समर्थन देते हैं. हमें ज्यादा लड़कों वाले परिवारों में उपस्थित समस्याओं को दूर करने के बारे में सोचना पड़ेगा. 2010 में बर्मिंघम यंग यूनिवर्सिटी द्वारा भाई-बहनों पर किए गए एक शोध में भी ऐसे ही परिणाम देखने को मिले थे. 

नए शोध में 395 परिवारों को शामिल किया गया. इन परिवारों में एक से ज्यादा बच्चे थे. इस शोध में पता चला कि जिन घरों में बहनें होती है उस घर के अन्य बच्चे दयालु प्रवृत्ति के होते हैं. हालांकि, इस शोध में दर्शाया गया है कि भाई भी लाभकारी होते हैं अगर दोनों सहोदरों के बीच प्यारा भरा रिश्ता हो तो. ऐसे में शोध कहता है कि एक सहोदर होना हमेशा अच्छा होता है. शोधकर्ता लाउरा पाडिला ने कहा, किसी भी लिंग के सहोदर का स्नेह कम प्रलाप व अधिक सामाजिक व्यवहार जैसे अधिक दयालुता व उदारता व दूसरों की मदद करने से संबंधित था.