दिन में एक बार जरूर करें हनुमान जी के इस मन्त्र का जाप

दिन में एक बार जरूर करें हनुमान जी के इस मन्त्र का जाप

हनुमान जी कलियुग के देवता माने जाते है। उनमे अपार शक्ति होने के कारण ही उनका नाम बजरंगबली हनुमान पड़ा था। ऐसी मान्यता है कि जो भी मनुष्य सच्चे मन से हनुमान जी की उपासना करता है उसके सभी दुःख हनुमान जी के द्वारा नाश कर दिए जाते है। आज हम लाये है हनुमान जी का चमत्कारिक और सिद्ध मंत्र जिसके जाप से आप अपनी सभी परेशानियों से छुटकारा प्राप्त कर सकते है।

करें इस मन्त्र का जाप:

इस शाबर मंत्र को गुरु गोरखनाथ जी और नवनाथ द्वारा चौरासी सिद्धों ने मिलकर लिखा था जिसके प्रयोग से मनुष्य सिद्धि प्राप्त कर सकें। इस मंत्र का प्रयोग हिंदू धर्म के अलावा इस्लाम व बाकी दूसरे धर्मों में भी किया जाता हैं।

हनुमान वशीकरण मंत्र:

हनुमान जाग किलकारी, मार तू हुंकारे राम काज सँवारे
ओढ़ सिंदूर सीता मैया, का तू प्रहरी राम द्वारे मैं बुलाऊँ
तू अब आ राम गीत, तू गाता आ नहीं आये तो हनुमाना
श्री राम जी ओर सीता मैया कि दुहाई
शब्द साँचा पिंड कांचा फुरो मन्त्र ईश्वरोवाचा

# शुक्रवार को काले कपड़े पहनकर माला लेंकर हनुमान वशीकरण मंत्र को 5 माला जाप 5 दिनों तक करना चाहिए। 

# पाँचवें दिन हनुमान जी की पूजा करके इस माला को एक गढ्ढा खोद कर उस गड्ढे में डाल कर मिट्टी से ढक कर छोड़ देना चाहिए। इस मंत्र के द्वारा कुछ दिनों बाद आपकी सिद्धि पूर्ति अवश्य हो जाएगी।


शनिवार के दिन करें ये उपाय,दूर होंगी नौकरी पाने की सभी बाधाएं

शनिवार के दिन करें ये उपाय,दूर होंगी नौकरी पाने की सभी बाधाएं

शनिदेव को न्याय और दण्ड का देवता माना जाता है। मान्यता है कि शनिदेव प्रत्येक व्यक्ति को उसके कर्मों के अनुरूप फल प्रदान करते हैं। लेकिन कई बार व्यक्ति को कुण्डली में व्याप्त शनिदोष के कारण कई तरह की दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसी कारण कई बार बहुत परिश्रम करने के बाद भी व्यक्ति को नौकरी में सफलता नहीं मिल पाती है। या फिर उसमें कई बाधाओं का सामना करना पड़ता है। भारतीय ज्योतिष में कई ऐसे उपाय बताए गए हैं जिनकों अपना कर शनिदोष को शांत किया जा सकता है। इन उपायों को अपना कर नौकरी में आने वाली बाधा को दूर किया जा सकता है। आइए जानते हैं शनिदेव को प्रसन्न करने के कुछ ऐसे उपाय जिन्हें अपनाने से नौकरी में आने वाली बाधाओं को दूर किया जा सकता है...


1- शनिवार के दिन 11 बार हनुमान चालीसा का पाठ करें। मान्यता है कि हनुमान जी के प्रसन्न होने से शनिदेव स्वयं प्रसन्न होते हैं और सारी दिक्कतें दूर करते हैं।

2- व्रत के शनिवार को सुबह उठकर सरसों के तेल में अपनी छाया देख कर छायादान कर दें। और शाम को पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दिया जलाएं।

3- अगर शनि की कृदृष्टि के कारण नौकरी में दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है तो शनिवार का व्रत रखना लाभदायक होता है। कम से कम 7 शनिवार लगातार शनिवार का व्रत करने से सारी बाधाएं दूर होती हैं।


4- अगर नौकरी में प्रमोशन की समस्या है तो चींटियों को शनिवार के दिन आटा खिलाएं। ऐसा करने से प्रमोशन में आने वाली बाधा दूर होगी।

5- शनिवार के दिन 11 गरीब और जरूरतमंद लोगों को खाना खिलाएं और दान करें। ऐसा करने से नौकरी और व्यापार के क्षेत्र में आने वाली समस्या दूर होती हैं।