किसान ने शिवा जी के गुरु को पीटा, बदले में मिला उपहार

किसान ने शिवा जी के गुरु को पीटा, बदले में मिला उपहार

कुछ लोग परिस्थितियों के वशीभूत होकर गलत आचरण करते हैं तो कुछ लोगों के आचरण में ही गलत व्यवहार घुला मिला होता है। जागरण अध्यात्म में आज हम आपको एक प्रेरक प्रसंग के बारे में बता रहे हैं, जिसमें एक किसान ने शिवाजी के गुरु जी को पीट दिया, बदले में उसे जमीन का उपहार देने की बात शिवा जी के गुरु ने ही कह दी। आखिर ऐसा क्यों हुआ? पढ़ें यह प्रेरक घटना।

एक बार शिवाजी के गुरु समर्थ रामदास पैदल ही कहीं जा रहे थे। चलते चलते उन्हें प्यास लग आई, लेकिन कहीं पानी का स्रोत दिखाई नहीं दे रहा था। तभी उनकी नजर पास के एक खेत पर पड़ी। बगल में एक गन्ने का खेत था। गुरुजी ने एक गन्ना तोड़ा और उसे चूस कर प्यास बुझाने लगे। इसी बीच खेत वाले किसान की उन पर नजर पड़ गई। वह उनके पास पहुंचा और उनको पकड़ कर पीट दिया। यह बात जब शिवा जी को पता चली तो किसान को पकड़ कर शिवाजी के दरबार में पेश किया गया।


किसान यह जानकर बहुत ही डर गया कि उसने जिसे पीटा है, वे तो शिवाजी के गुरु हैं। डर के मारे उसकी हालत खराब हो रही थी। उसे डर था कि उसे कड़ी सजा मिलने वाली है। जैसे ही शिवाजी ने किसान को दंडित करना चाहा, तो समर्थ रामदास ने वैसे ही कहा कि पीड़ित होने के नाते मुझे दंड देने का हक है। उन्होंने शिवाजी से कहा, 'इस किसान को पांच बीघा जमीन दे दो।'

गुरु जी की यह बात सुनकर सभी आश्चर्य में पड़ गए और बोले कि यह सजा सुनाई है या पुरस्कार दिया है। सभी लोगों की बातें सुनने के बाद शिवा जी के गुरु समर्थ रामदास बोले, 'कम जमीन होने के कारण गरीब किसान अपने परिवार का भी भरण-पोषण नहीं कर पा रहा है, इसलिए शायद उसने मुझे पीटा होगा।'


कथा सार

अहंकार रहित और गरीबों के प्रति सद्भावना रखने वाले लोग ही न्यायप्रिय होते हैं।


क्या आप भी करते हैं खाना खाते समय ये गलतियां तो मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज

क्या आप भी करते हैं खाना खाते समय ये गलतियां तो मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज

हिंदू धर्म में खाने का भी तरीका और नियम बताए हैं। धार्मिक मान्यतानुसार, रात के समय में कुछ चीजों का खाना मना किया गया है। कहा जाता है अगर रात के समय कुछ चीजों का सेवन किया जाए तो व्यक्ति के स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। इसका असर आर्थिक स्थिति पर भी पड़ता है। इससे मां लक्ष्मी नाराज हो जाती हैं जिससे व्यक्ति को आर्थिक नुकसान झेलना पड़ सकता है। ऐसे में खाना खाते समय कुछ बातों का ख्याल रखना बेहद आवश्यक होता है। तो आइए जानते हैं खाने से जुड़े कुछ नियम।

रात को न करें इन चीजों का सेवन:

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, रात के समय अगर दूध का सेवन किया जाए तो बेहतर होता है। लेकिन रात में दही नहीं खानी चाहिए। इसका एक कारण यह भी होता है कि यह ठंडा पदार्थ है और रात को इसे खाने से व्यक्ति की तबियत खराब हो सकती है। वहीं, कहा जाता है कि इससे धन की हानि होती है। इसके अलावा चावल, सत्तू, मूली भी रात में नहीं खानी चाहिए।


दिशा का रखें खास ख्याल:

कहा जाता है कि भोजन करते समय दिशा का ख्याल रखना भी बेहद जरूरी होता है। इस दौरान मुंह पूर्व या फिर उत्तर दिशा की ओर होना चाहिए। अगर ऐसा न हो तो धन की हानि हो सकती है। जूते पहनकर या सर ढककर भी भोजन नहीं करना चाहिए। खाना खाने की सबसे अच्छी जगह रसोई घर बताई गई है। मान्यता है कि इससे राहु ग्रह शांत होता है।

स्नान कर ही खाएं खाना:


कहा जाता है कि खाना स्नान करने के बाद ही खाया जाना चाहिए। पहली रोटी के 3 हिस्से करें और इसका एक हिस्सा गाय, दूसरा हिस्सा कुत्ता और तीसरा हिस्सा कौवे के लिए निकाल लें। इसके बाद अग्निदेव को भोग लगाएं। इसके बाद घर वालों को भोजन खिलाएं।

इस तरह न करें भोजन:

खाना कभी-भी टूटे-फूटे बर्तनों या हाथ पर रखकर नहीं खाना चाहिए। वहीं, पीपल और वटवृक्ष के नीचे भोजन नहीं करना चाहिए।


न करें खाने का अपमान:

भोजन का अपमान कभी नहीं करना चाहिए। साथ ही चाहें कितना भी गुस्सा क्यों न हो, न तो भोजन छोड़ना चाहिए और ही फेंकना चाहिए।  


आज है अप्रैल माह का पहला प्रदोष व्रत, जानें शुभ मुहूर्त और महत्व       क्या आप भी करते हैं खाना खाते समय ये गलतियां तो मां लक्ष्मी हो सकती हैं नाराज       गुरुवार को रखने जा रहे हैं व्रत तो इन बातों का रखें खास ख्याल       करें काले तिल के ये उपाय, घर में आती है सुख-समृद्धि       कब से शुरू हो रहा है रमजान का पवित्र महीना, जानें यहां       ताइवान अधिकारी के साथ सरकार के संबंधों को मिलेगा बढ़ावा       अमेरिका-ईरान के बीच अगले सप्ताह शुरू होगी वार्ता, परमाणु समझौते का मुख्य बिंदु       कोरोना संक्रमण के चलते दूसरे देशों को टीके की आपूर्ति कम कर सकता है भारत : गावी प्रमुख       अमेरिकी सांसद ने 'क्वाड प्लस फ्रांस' नौसेना अभ्यास को सराहा       वर्जीनिया में एलजी पद की दौड़ में शामिल पुनीत अहलूवालिया के पक्ष में उतरे कपिल देव       मध्य प्रदेश सीएम शिवराज ने बढ़ते कोविड मामलों पर जताई चिंता, बोले...       दुनियाभर के 27 अमीर देशों में 25 गुना तेज टीकाकरण       बढ़ते संक्रमण को लेकर छत्तीसगढ़ सरकार अलर्ट, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर RT- PCR परीक्षण की तैयारी       आम की यह किस्म बारहों महीने देती है फल, राजस्थान के इस किसान ने किया विकसित       झारखंड और यूपी के कई इलाकों में हुई बारिश, जानें अपने राज्य का मौसम       पेट्रोल डीजल की खूब बचत करती हैं ये 4 कारें, इनका माइलेज है सबसे ज्यादा       नई किआ Seltos से लेकर हुंडई Alcazar तक, अप्रैल में लॉन्चिंग को तैयार ये धाकड़ एसयूवीज !       इन SUVs को जमकर खरीद रहे ग्राहक, कीमत है कम और फीचर्स हैं ज्यादा       फ्यूल सेविंग गैजेट्स के बारे में ये बाते नहीं जानते होंगे आप, जानें       ये हैं भारत की सबसे सस्ती फैमिली कारें, 7 लोगों का परिवार आसानी से हो जाएगा इनमें फिट