नेपाल के विदेश मंत्री का आया ये बड़ा बयान- "चाइना का उदय व हिंदुस्तान की आकांक्षा का उदय"

नेपाल के विदेश मंत्री का आया ये बड़ा बयान- "चाइना का उदय व हिंदुस्तान की आकांक्षा का उदय"

नेपाल के विदेश मंत्री प्रदीप कुमार ग्यावली ने गलवान घाटी में हुए खुनी प्रयत्न की घटना को लेकर बोला है कि हिंदुस्तान व चाइना के रिश्तों का निश्चित रूप

से इस इलाके पर प्रभाव पड़ेगा। उन्होंने साल 2014 के बाद से पांच वर्ष को भारत-चीन साझेदारी के लिए अहम बताते हुए बोला कि वुहान शिखर सम्मेलन के बाद यह साझेदारी व गहरी होती गई, किन्तु गलवान घाटी की घटना के बाद दोनों राष्ट्रों में तनाव है।

नेपाल के विदेश मंत्री ने शुक्रवार को बोला है कि दोनों ही देश तनाव को कम करने का कोशिश कर रहे हैं, किन्तु चुनौतियां हैं। उन्होंने बोला कि चाइना का उदय व हिंदुस्तान की आकांक्षा का उदय, वे किस तरह से जुड़ते हैं व किस तरह अपने तनाव को ख़त्म करते हैं? निश्चित रूप से यह एशिया व इस क्षेत्र के भविष्य पर प्रभाव करेगा। प्रदीप कुमार ग्यावली ने बोला है कि नेपाल, चाइना के साथ BRI का भाग है व यह भी चाहता है कि भारत भी यहां इन्वेस्ट करे।

उन्होंने बोला कि हम चाहते हैं कि दोनों देश नेपाल में पैसा लगाएं, इससे दोनों राष्ट्रों को लाभ होना चाहिए। उन्होंने कोरोना वायरस की महामारी को लेकर भी चर्चा की व बोला कि महामारी का सियासी रण नहीं किया जाना चाहिए। इसके लिए किसी जातीयता को गुनाह नहीं देना चाहिए। उन्होंने आगे बोला कि एक बार पुनः बहुपक्षीय योगदान की प्रासंगिकता साबित हुई है।