1 दिसंबर को साझा की गई जानकारी, कई योजनाओं की हुई है शुरुआत

1 दिसंबर को साझा की गई जानकारी, कई योजनाओं की हुई है शुरुआत

पाक के बाद अब चाइना में भी एड्स को लेकर खतरा बढ़ रहा है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस वर्ष जनवरी से अक्टूबर तक देश में 23 करोड़ लोगों की एड्स की जाँच की गयी. जाँच के बाद 1 लाख 31 हजार नये एड्स संक्रमित लोगों का पता लगाया गया है. बताया जा रहा है कि एड्स उपचार पाने वाले लोगों की संख्या में 1 लाख 27 हजार वृद्धि हुई है.

स महामारी की ओवरऑल स्थिति निचले स्तर पर

चीन भर में एड्स संक्रमित लोगों में से 86.8 फीसदी लोगों को संबंधित उपचार मिल रहा है व उपचार की सफलता दर 93.5 फीसदी है. इस अक्टूबर के अंत तक देश में एड्स पीड़ित जीवित लोगों की संख्या 9 लाख 58 हजार है. इस महामारी की ओवरऑल स्थिति नीचे स्तर पर बनी हुई है.

1 दिसंबर को साझा की गई जानकारी

यहां आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि चाइना ने साल 2019 में एड्स की रोकथाम व उपचार में नई प्रगति हासिल की है. एड्स संक्रमण दर निचले स्तर पर बनाए रखी है. चीनी राष्ट्रीय स्वास्थ्य व चिकित्सा आयोग ने 1 दिसंबर को यह जानकारी दी. बताया गया है कि अब चाइना में ब्लड ट्रांसफ्यूजन से एड्स के संक्रमण को आम तौर पर रोका गया है. इंट्रावेनस ड्रग्स के प्रयोग से संक्रमण व मदर-टू-चाइल्ड ट्रांसमिशन प्रभावी रूप से नियंत्रित किया गया है. दावा किया जा रहा है कि यौन सम्पर्क देश में एड्स के संक्रमण की सबसे मुख्य वजह है.

कई योजनाओं की हुई है शुरुआत

राष्ट्रीय स्वास्थ्य व चिकित्सा आयोग ने शारीरिक संबंध व मदर-टू-चाइल्ड संक्रमण व इस महामारी की गंभीर स्थिति से पीड़ित इलाकों पर फोकस रखकर संबंधित काम की व्यवस्था की है. इसके अतिरिक्त राष्ट्रीय स्वास्थ्य व चिकित्सा आयोग स्वस्थ चाइना कार्रवाई प्रोग्राम के कार्यान्वयन के दौरान समाज की जागरूकता मजबूत कर चौतरफा तौर पर एड्स रोकथाम की योजना (वर्ष 2019-2022) लागू करेगा.