सूडान: भारतीय उच्चायोग ने बोला, 'अब तक जिन शवों की पहचान हो गई...

सूडान: भारतीय उच्चायोग ने बोला, 'अब तक जिन शवों की पहचान हो गई...

अफ्रीकी देश सूडान (Sudan) से बुधवार को 14 हिंदुस्तानियों के मृत शरीर हिंदुस्तान लाया जा सकता है. दरअसल, सूडान की एक फैक्ट्री में बीते हफ्ते भीषण आग लग गई थी, जिसमें 14 हिंदुस्तानियों की जान चली गई थी. भारतीय उच्चायोग ने बोला है कि अब तक जिन शवों की पहचान हो गई है उन्हें हिंदुस्तान भेजने की व्यवस्था की जा रही है.

बता दें कि 3 दिसंबर को सूडान की राजधानी खार्तूम स्थित सीला सिरेमिक फैक्ट्री के एलपीजी टैंकर आकस्मित भीषण विस्फोट हो गया था. इस हादसे में 23 लोगों की मृत्यु हो गई थी. हादसे के बाद से 16 भारतीय लापता बताए गए थे.

 

हालांकि बाद में भारतीय दूतावास ने आधिकारिक ट्विटर एकाउंट पर उन सभी लोगों के नाम जारी किए थे, जिनके शवों की पहचान हो चुकी है. मृतकों में बिहार, राजस्थान व यूपी के तीन-तीन, हरियाणा व तमिलनाडु के दो-दो व एक पुडुचेरी का रहने वाले थे. भारतीय दूतावास ने मृतकों के परिजनों को सूचित कर दिया है.

130 से अधिक लोग हुए थे घायल

आपको बता दें कि सूडान की राजधानी खार्तूम में बीते 3 दिसंबर को एक चीनी मिट्टी के कारखाने में एलपीजी टैंकर में धमाका हुआ था.

इस धमाके में 23 लोगों की मृत्यु हो गई थी, जबकि 130 से अधिक घायल हो गए थे. इसके बाद सारे कारखाने में आग लग गई थी. आग लगने के दौरान इस कारखाने में 50 से अधिक भारतीय मेहनतकश कार्य कर रहे थे.

 

इस घटना के बाद सूडान सरकार ने एक बयान जारी करते हुए बोला था कि औद्योगिक क्षेत्र स्थित फैक्ट्री में गैस टैंकर को खाली करते समय धमाका हुआ.

बयान में बताया गया था कि वहां उपस्थित अत्यंत ज्वलनशील पदार्थ को ठीक तरीका से नहीं रखे जाने व सुरक्षा उपकरणों के अभाव की वजह से भीषण एक्सीडेंट हुआ.