चीन में सरकार की ओर से जारी एक रिपोर्ट

चीन में सरकार की ओर से जारी एक रिपोर्ट

चाइना में कोरोना वायरस कहर बनकर टूटा है. इससे मरने वालों का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है. सरकार की ओर से जारी एक रिपोर्ट अनुसार यह आंकड़ा 1800 के पार हो गया है. 

इसका प्रभाव अब दुनियाभर के कारोबार पर भी दिखाई देने लगा है. हिंदुस्तान के दवा उद्योग के बाद अब ऊर्जा क्षेत्र पर वायरस का खतरा मंडराने लगा है. सोमवार को जारी एक रिपोर्ट में चिंता जाहीर की गई है कि कोरोना के कारण हिंदुस्तान में 16 हजार करोड़ रुपये के सोलर प्रोजेक्ट पर प्रभाव पड़ सकता है.

मालदीव के सात नागरिक लौटे घर

दिल्ली के छावला में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (ITBP) संगरोध सुविधा में कोरोना वायरस की स्क्रीनिंग के बाद एक बच्चे सहित सात मालदीव के नागरिकों को उनके देश भेज दिया गया. हिंदुस्तान सरकार द्वारा इन नागरिकों को चाइना के वुहान से निकाला गया था.

मां के अवशेष वापस लाने की अपील

मुंबई निवासी पुनीत मेहरा अपनी मां हो खो चुके हैं. मां ने 24 जनवरी को बीजिंग के रास्ते मेलबर्न से मुंबई के लिए उड़ान भरने के बाद चाइना के एक अस्पताल में अपनी जान गंवा दी थी. उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी व विदेश मंत्री एस जयशंकर से अपनी मां के अवशेषों को जल्द से जल्द वापस लाने की अपील की है.

पुनीत मेहरा के अनुसार किसी कारणवश परिवहन प्रक्रिया प्रारम्भ नहीं की जा सकी है, मुझे नहीं पता कि यह कोरोनो वायरस के कारण है या कोई व वजह है. बहुत समय बीत चुका है व उनकी मां के अवशेष अभी तक वापस नहीं आए हैं. उन्हें नहीं पता कि वह किस स्थिति में है. उन्होंने प्रधान मंत्री नरेन्द्र मोदी व सरकार से मां की अस्थियां वापस लाने की अपील की है.