7 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस, जानिए इसके बारे में कुछ खास बाते

7 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस, जानिए इसके बारे में कुछ खास बाते

आज यानी 7 दिसंबर को अंतर्राष्ट्रीय नागरिक विमानन दिवस बनाया जाता है। विश्वभर में सामाजिक, आर्थिक विकास के लिए नागरिक उड्डयन के महत्व को उजागर करने के उद्देश्य से 7 दिसंबर 2013 को मनाया गया।

आपकी जानकारी के लिए बता दे​ कि अंतर्राष्ट्रीय नागर विमानन दिवस वायु परिवहन की सुरक्षा व दक्षता को बढ़ावा देने व हवाई परिवहन में अंतर्राष्ट्रीय नागर विमानन संगठन की किरदार के बारे में जागरूकता पैदा करना। अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन (आईसीएओ) विमानन सुरक्षा के लिए अंतर्राष्ट्रीय मानकों के विकास के लिए जिम्मेदार संयुक्त देश संघ का एक भाग है। अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस प्रतिवर्ष 7 दिसंबर को मनाया जाता है। साल 1944 में शिकागो में इसी दिन अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संधि पर हस्ताक्षर किए गए थे।

अंतरराष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन से संबंधित तथ्य

1. अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन को नागरिक उड्डयन मामलों में अंतरराष्ट्रीय योगदान व एकरूपता सुरक्षित करने के लिए 7 दिसंबर, 1944 को स्थापित किया गया था।

2. इस दिवस को मनाने के पीछे सामाजिक व आर्थिक विकास में अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन के महत्व के वैश्विक जागरूकता उत्पन्न करने व सुदृढ़ करना है, साथ ही अंतर्राष्ट्रीय हवाई परिवहन की सुरक्षा, दक्षता व नियमितता को बढ़ावा देने में भी इसकी किरदार है।

3.1996 में संयुक्त देश महासभा के एक आईसीएओ पहल के अनुसार व कनाडा सरकार की सहायता से, अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन दिवस के रूप में 7 दिसंबर की घोषणा की।

4. अंतर्राष्ट्रीय नागरिक उड्डयन संगठन दुनिया मौसम विज्ञान संगठन, अंतरराष्ट्रीय दूरसंचार संघ, यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन, दुनिया स्वास्थ्य संगठन व अंतरराष्ट्रीय समुद्री संगठन सहित अन्य संयुक्त देश के सदस्यों के साथ मिलकर कार्य करता है।