ड्राई आई सिंड्रोम के क्या होते हैं लक्षण व कैसे करे इससे बचाव, आइए जाने

ड्राई आई सिंड्रोम के क्या होते हैं लक्षण व कैसे करे इससे बचाव, आइए जाने

नई नॉर्मल जीवन से सभी का स्क्रीन टाइम बढ़ गया है. इस कारण लोगों को अधिकांश ड्राई आई सिंड्रोम की समस्या रहती है. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि थोड़ी सी सावधानी व अलर्ट

से रहने से आप आंखों की इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते है. ड्राई आई की समस्या जब बनती है जब आंखों से आंसू जल्दी सूख जाते हैं व आंखें आंसुओं को प्रोड्यूस नहीं कर पाती है. इससे आंखों में खुजली की फीलिंग होती है. कई बार इनसे आंखों में दर्द भी होने लगता है.

आंखों को स्वस्थ रखने के लिए आंसुओं की एक मात्रा में लेयर होना बहुत महत्वपूर्ण है. आंखो में नमी न होने के कारण ही ड्राई आई की समस्या उत्पन्न होती है. यह महिला ओर पुरुषों दोनों में समान है. कोरोना वायरस के इस दौर में चिकित्सक बार-बार हाथ धोने की सलाह दे रहे हैं. इससे आप कोरोना वायरस से बचेंगे. दऱअसल कोरोना वायरस आंख, कान व नाक के जरिए ही शरीर में पहुंचता है. इसलिए आंख की देखभाल करना बहुत महत्वपूर्ण है. कभी भी गंदें हाथों से अपनी आंख, नाक व कान को न छुएं.

ड्राई आई सिंड्रोम के कारण
-  हार्मोन रिप्लेसमेंट थैरेपी की दवाएं, बर्थ कंट्रोल पिल्स लागातर सूखी हवा व धूप में रहना
कॉन्टेक्ट लैंस का अधिक इस्तेमाल
विटामिन ए व डी की कमी
एलर्जी
लंबे समय से मोबाइल देखना 
हॉर्मोनल बदलाव
conjunctivitis
स्मोकिंग व शराब का सेवन

क्या हैं लक्षण

आंखों में जलन
आंखों में दर्द
आंखे लाल होना
विजन ब्लर होना
आंखों में पानी आना