कोरोना महामारी के दौरान कपड़े धोते समय इन चीजों का जरूर रखें ख्याल

कोरोना महामारी के दौरान कपड़े धोते समय इन चीजों का जरूर रखें ख्याल

कोरोना वायरस से देश में अब तक 4 हजार से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं। जबकि सौ से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। इस वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए 14 अप्रैल तक देश भर में लॉकडाउन है। लोग अपने घरों में बंद हैं। हालांकि, खाने-पीने की चीजों के लिए उन्हें बाहर जाना पड़ता है। ऐसी स्थिति में लोगों को अपना अधिक ध्यान रखने की जरूरत है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कई एडवायजरी जारी की है, जिनमें लोगों को आवश्यक सावधानियां बरतने की सलाह दी गई है। इनमें हाथ को लगातार धोते रहना, मास्क पहनना और सोशल डिस्टैंसिंग आदि हैं।

वहीं, एक स्टडी में ऐसा बताया गया है कि कोरोना वायरस सतह, कपड़े और किसी सामान पर कुछ घंटों तक रहता है। जब कभी आप बाहर जाते हैं और फिर घर वापस लौटते हैं तो वायरस आपके कपड़ों के साथ घर आ सकता है। ऐसे में आपको अपने कपड़ों को लेकर भी विशेष सावधान रहने की जरूरत है। आइए जानते हैं कि कोरोना वायरस महामारी के दौरान कैसे अपने कपड़ों को धोंए।

घर लौटने के बाद जितनी जल्दी हो अपने कपड़े धो लें

जब आप बाहर का काम निपटाकर घर लौटते हैं तो सबसे पहले अपने हाथों को हैंड वॉश से धोएं। इसके बाद अपने कपड़े बदल लें और जितनी जल्दी हो, पहने हुए कपड़ों को धो लें।अगर आप उस समय कपड़े को नहीं धो सकते हैं तो उसे अलग जगह रख दें, ताकि कोई उसके संपर्क में न आए। आप चाहें तो कपड़े को वॉशिंग मशीन में डाल दें।

गिले हाथों से कपड़े धोएं

अगर संभव हो तो कुछ समय के लिए कपड़ों को सर्फ में डालकर छोड़ दें। इसके बाद कपड़े धोने के साबुन की मदद से धोएं। आप चाहें तो कपड़े धोते समय प्लास्टिक दस्ताने पहन सकते हैं। अगर संभव हो तो वॉशिंग मशीन में ही कपड़े धोएं। गर्म पानी से कपड़े विसंक्रमित हो जाते हैं रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के अनुसार, कपड़ों को गर्म पानी से ही धोएं। ब्रिटेन के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र अनुसार कपड़ों को धोने के लिए पानी का तापमान 40 से 60 डिग्री सेल्सियस के बीच होना चाहिए। ऐसा करने से कपड़े विसंक्रमित हो जाते हैं। इसके साथ ही आपको उच्च गुणवत्ता वाले साबुन का उपयोग करना चाहिए। अगर आप वॉशिंग मशीन यूज नहीं कर रहे हैं तो गर्म पानी से ही कपड़े धोएं।

ब्लीच विसंक्रमण के लिए सबसे बेहतर होता है

ब्लीच को विसंक्रमण करने का सबसे अच्छा एजेंट माना जाता है। हालांकि, सभी कपड़ों के लिए आप एक ही ब्लीच का यूज नहीं कर सकते हैं। इससे कुछ कपड़ों की रंगत गायब हो सकती है। ऐसे में कपड़े के अनुसार ही ब्लीच का यूज करें। आप सुरक्षा की दृष्टि से कपड़े धोते समय भी ब्लीच ए़ड कर सकते हैं।

सामान्य सावधानियां

इन सब चीजों के अलावा कुछ सामान्य सावधानियां भी बरतने की जरूरत है। इनमें एक कपड़ों को धोने से पहले सतह अथवा जमीन पर न रखें। कपड़ों के अच्छी तरह से धोएं। अगर गलती से आप अपने कपड़ों को सतह पर रखते हैं तो घर को अच्छी तरह से धो लें। एक चीज का और ध्यान रखें कि कपड़े धोने के बाद अपने हाथों को हैंड वॉश से जरूर धोंए।


नई हील्स से पैरों में होने वाले दर्द से कैसे पाएं छुटकारा

नई हील्स से पैरों में होने वाले दर्द से कैसे पाएं छुटकारा

जब भी नए जूते पहनते है तो अक्सर पैर कट जाते है, जिससे काफी तकलीफ होती है। एेसा अक्सर जूते टाइट होने पर होता है। जब हम टाइट जूते पहनते हैं तो यह त्वचा से रगड़ खाने लगते हैं और इस रगड़ के ही कारण छाले उभर आते हैं।

इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं:

 पैर कट जाने पर बैंड एड्स का इस्तेमाल करें। अगर आप हील्स पहन रही हैं तो घाव वाली जगह पर बैंड एड्स लगा लें। इससे काफी आराम मिलेगा और चलने में भी दिक्कत नहीं होगी।

 जूते पहनने से पहले घाव पर थोड़ा टेलकम पाऊडर लगा लें। इससे दर्द से राहत मिलेगी। अगर आप जुराबें पहन रहे हैं तो ध्यान रखें कि आपके पैंर सूखे हो।

 पैरों में मोटी जुराबें डालकर जूतें पहनें। बाद में जहां से जूते टाइट है वहां ड्रायर से हीट दें। बाद में जूतों को पहनकर तब तक वॉक करें जब तक जूतें पूरी तरह से ठंडे न हो जाएं। इससे जूते से पैर कटेगे नहीं।

 जूते के अंदर टाइट जगह पर थोड़ी सी अल्कोहल स्प्रे करें। रातभर जूतों को सिलवट पड़े पेपर में लपेट दें। सुबह पेपर को निकाल दें और जूते को पहनकर देखे। अब जूतें आपके पैर में फिट आएगे।

 एक साफ आलू को अपने जूतों के अंदर रख दें। रातभर एेसे ही रहने दें। सुबह अपने जूतों को कपड़े से साफ करके पहनें।


बिजली के खंभे के पास नहीं करें कोई काम, रिपेयरिंग के चक्‍कर में चली गई कैमूर के युवक की जान       आंधी-तूफान से धराशाई हो गए मिट्टी और फूस के बने गई घर, नवादा में पेड़-पौधों को भी पहुंचा नुकसान       बिहार में शिक्षकों के तबादले की तैयारी, जुलाई के पहले सप्ताह में जारी होगा शेड्यूल       रेल यात्रियों के लिए राहत भरी खबर, बिहार में सात जोड़ी ट्रेनों का परिचालन 24 से होगा शुरू       फतेहपुर का 'श्याम' उत्तराखंड में कैसे बना 'उमर', यहां जानिए- पूरी प्रोफाइल       UP का पहला कोरोनामुक्त जिला बना महोबा, सीएम योगी ने की खूब तारीफ       उमर गौतम की गिरफ्तारी पर रिश्तेदारों ने दी प्रतिक्रिया, कहा...       कमरे में बंद कर बच्ची को दिखा रहा था अश्लील फिल्म, कर रहा था गंदी बात       गोरखपुर में फेरी लगाकर बेचते थे स्मैक, पुलिस ने पकड़ा, जानें       तीन साल बीत गए, अभी तक वातानुकूलित नहीं हुए स्टेशन प्रबंधकों के दफ्तर       श्रावस्ती में च‍िलच‍िलाती धूप में बैंक के सामने लेटा वृद्ध, अपने पैसों के ल‍िए आठ माह से लगा रहा था चक्‍कर       बीटेक, बीसीए अंतिम सेमेस्टर परीक्षाओं की त‍िथ‍ि घोष‍ित, जान‍िए क्‍या है पूरा शिड्यूल       बहराइच के कतर्नियाघाट में हाथी का उपद्रव, दो मकान को किया क्षतिग्रस्त-लोगों ने भागकर बचाई जान       रोबोट-ड्रोन जैसे यंत्र बनाना सीख जुड़े रोजगार से, राजकीय इंजीनियरिंग कालेज अंबेडकरनगर देगा न‍िश्‍शुल्‍क प्रश‍िक्षण       क्रिकेट मैदान की भांति सुखाई जा रही नींव, ढलाई का एक चौथाई कार्य पूरा       शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के सदस्य वसीम रिजवी पर दुष्कर्म का आरोप, लखनऊ में ड्राइवर की पत्नी ने दी तहरीर       दारोगा भर्ती के आवेदकों के लिए जरूरी सूचना, रजिस्टर्ड अभ्यर्थियों मिला अतिरिक्त मौका       सरकारी विभागों में रिक्त पदों को भरने की तैयारी तेज, भर्ती आयोग व बोर्ड अध्यक्षों की क्लास लेंगे सीएम योगी       न्यायमूर्ति एमएन भंडारी इलाहाबाद हाई कोर्ट के कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश नियुक्त       कोर कमेटी का 2022 में जीत को लेकर मंथन, बीएस संतोष के साथ CM योगी मौजूद