कोरोना से संक्रमित होने पर कैसी दिखती है कोशिकाएं, वैज्ञानिकों ने जारी की तस्वीरें

कोरोना से संक्रमित होने पर कैसी दिखती है कोशिकाएं, वैज्ञानिकों ने जारी की तस्वीरें

कोरोना से संक्रमित होने पर कोशिकाएं कैसी दिखती हैं, इसकी तस्वीर अमेरिकी शोधकर्ताओं ने जारी की है. वैज्ञानिकों ने प्रयोगशाला में इंसान की ब्रॉन्कियल एपिथीलियल कोशिकाओं में कोरोना को इंजेक्ट किया. इसके बाद कोशिकाओं में फैलने वाले वायरस की तस्वीरों को कैप्चर किया. कोशिकाओं में गुलाबी रंग वाली संरचना कोरोनावायरस की है. यह कोशिकाओं पर बढ़ते हुए गुच्छे के रूप में दिख रहा है.

अमेरिका के यूएनसी स्कूल ऑफ मेडिकल लेबोरेट्री ऑफ कैमिल एहरे की रिपोर्ट के मुताबिक, ये फोटोज़ सांस नली में संक्रमण की हैं. सांस की नली में कोरोना का संक्रमण कैसे बढ़ता है, इनसे समझा जा सकता है. ये फोटोज़ न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में प्रकाशित हुई हैं.

रिसर्चर कैमिल के मुताबिक, इंसान की ब्रॉन्कियल एपिथीलियल कोशिकाओं में कोरोना को इंजेक्ट करने के बाद 96 घंटों तक नजर रखी गई. इसे इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप से देखा गया. इमेज में रंगों को शामिल करके वायरस की ठीक तस्वीर दिखाने की प्रयास की गई.

तस्वीर में नीले रंग में दिखने वाली लम्बी संरचनाओं को सीलिया कहते हैं. जिसकी सहायता से फेफड़ों से म्यूकस को बाहर निकाला जाता है. वायरस के संक्रामक प्रकार को वायरियॉन्स कहते हैं. जो लाल रंग के गुच्छे के रूप में दिख रहे हैं.

अब मृत्यु के खतरे को समझने की प्रयास जारी
रिसर्चर्स के मुताबिक, ऐसी तस्वीरों से वायरल लोड को समझने में सरलता हो रही है. इसके साथ ही भिन्न-भिन्न जगहों पर वायरस ट्रांसमिशन कैसे व कितना होता है, यह समझा जा रहा है. कोरोनावायरस से मृत्यु का खतरा कितना है, अब इसे समझने के लिए भी रिसर्च की जा रही है.