एक्ट्रेस जरीना वहाब बेटे सूरज पंचोली को लेकर कही ये बाते

एक्ट्रेस जरीना वहाब बेटे सूरज पंचोली को लेकर कही ये बाते

एक्ट्रेस जरीना वहाब बेटे सूरज पंचोली के सपोर्ट में उतरी हैं. उन्होंने बयान दिया है. दरअसल, सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु में सूरज पंचोली का नाम घसीटा जा रहा था. 

जरीना ने सभी बातों को खारिज करते हुए बोला है कि सुशांत की मृत्यु से मेरे बेटे का कोई लेना-देना नहीं है. इसमें रत्तीभर भी सच्चाई नहीं है. टाइम्स ऑफ इंडिया से वार्ता में जरीना ने बोला कि लोग फिजूल में सूरज को इसमें घसीट रहे हैं. उन्हें एक विवश इंसान चाहिए ब्लेम करने के लिए. उसका कोई लेना-देना नहीं सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु से. लोग केवल कहानियां बना रहे हैं. सूरज व सुशांत दोस्त नहीं थे. हां, वह एक-दूसरे को जानते जरूर थे. कभी-कभी बात हो जाया करती थी दोनों में. वह भी तब जब मिलते थे. दोनों, भाई बुलाते थे एक-दूसरे को. 

जरीना ने आगे बोला कि यह अफवाहें कुछ लोगों ने औनलाइन फैलानी प्रारम्भ कीं. सूरज को ट्रोल किया. उसके मानसिक स्वास्थ्य को चोट पहुंचाने की प्रयास की. यह अच्छी बात नहीं कि आप किसी विवश की स्थित का मजाक उड़ाने बैठ जाएं. उन्हें भय लगना चाहिए. लोगों के पास बहुत खाली टाइम है ये सब बातें करने के लिए. कम्प्यूटर के पीछे बैठकर बात करना बहुत सरल होता है. वे नहीं सोचते कि ये सारी चीजें किसी पर क्या प्रभाव डाल सकती हैं. सूरज पहले से ही अपने ज़िंदगी में बहुत कुछ झेल चुके हैं. कोई किसी को कैसे मार सकता है जबकि दोनों कुछ ही महीने पहले मिले हों. 

गौरतलब है कि सूरज पंचोली पर एक्स-गर्लफ्रेंड जिया खान के सुसाइड का भी आरोप लगा है. वर्ष 2013 में जिया ने आत्महत्या कर ली थी. पिछले आठ वर्षों से वह न्यायालय में इसके विरूद्ध केस लड़ रहे हैं. 

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून की प्रातः काल घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. उनकी मृत्यु पर मुंबई पुलिस छानबीन में जुटी है. अभी तक करीब 27 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है. हालांकि, फाइनल पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सुशांत की मृत्यु की वजह Asphyxia आई है. इसका मतलब होता है शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पाना. हालांकि, अभी उनकी विसरा रिपोर्ट नहीं आई है, जिसका इंतजार किया जा रहा है. इस रिपोर्ट के आने बाद व खुलासे हो सकते हैं. रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि सुशांत के शरीर पर किसी भी तरह की बाहरी चोट नहीं पाई गई थी. उनके नाखून भी बिलकुल साफ थे.

आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपतू ने 14 जून की प्रातः काल घर में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी. उनकी मृत्यु पर मुंबई पुलिस छानबीन में जुटी है. अभी तक करीब 27 लोगों से पूछताछ की जा चुकी है. हालांकि, फाइनल पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सुशांत की मृत्यु की वजह Asphyxia आई है. इसका मतलब होता है शरीर को पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं मिल पाना. हालांकि, अभी उनकी विसरा रिपोर्ट नहीं आई है, जिसका इंतजार किया जा रहा है. इस रिपोर्ट के आने बाद व खुलासे हो सकते हैं. रिपोर्ट में यह भी बताया गया कि सुशांत के शरीर पर किसी भी तरह की बाहरी चोट नहीं पाई गई थी. उनके नाखून भी बिलकुल साफ थे.