बिहार के विवि-कालेज शिक्षक-कर्मियों के लिए अच्‍छी खबर, शिक्षा विभाग का पोर्टल देगा यह फायदा

बिहार के विवि-कालेज शिक्षक-कर्मियों के लिए अच्‍छी खबर, शिक्षा विभाग का पोर्टल देगा यह फायदा

राज्य के 13 विश्‍वविद्यालयों और 260 अंगीभूत महाविद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों और कर्मियों के लिए यह अच्छी खबर है। अब उन्हें वेतन सत्यापन के लिए भाग-दौड़ नहीं करनी पड़ेगी। शिक्षा विभाग ने शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन सत्यापन (Salaries Verification) के लिए पोर्टल पर आनलाइन आवेदन (Online Application) करने की सुविधा दी है और साफ्टवेयर से उनका वेतन सत्यापन होगा। अगले हफ्ते से शिक्षा विभाग द्वारा तैयार साफ्टवेयर काम करने लगेगा। शिक्षा मंत्री विजय कुमार चौधरी (Minister of Education Vijay Kumar Choudhary) के हाथों साफ्टवेयर लांच किया जाएगा। इसकी तैयारी शिक्षा विभाग ने शुरू कर दी है।

सभी विवि और कालेजों को जोड़ा गया पोर्टल से

सभी विश्‍वविद्यालयों और अंगीभूत महाविद्यालयों को पोर्टल से जोड़ दिया गया है। साफ्टवेयर की खासियत यह है कि यदि किसी शिक्षक या कर्मचारी का पहले से वेतन निर्धारण में विसंगति है तो यह उसे भी पकड़ लेगा। इसके बाद कमांड सिस्टम को सूचना भेज देगा। शिक्षा विभाग के तकनीकी सेल का दावा है कि साफ्टवेयर से वेतन संबंधी विवाद नहीं रहेंगे। शिक्षा विभाग के सचिव असंगबा चुबा आओ ने बताया कि पोर्टल के माध्यम से नए शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन निर्धारण प्रक्रिया भी अपडेट होगी। इसी तरह संबद्ध डिग्री कालेजों के शिक्षकों और कर्मचारियों के लिए तैयार पोर्टल से वेतन भुगतान की आनलाइन मानीटरिंग सुनिश्चित होगी।


फ्लाइट से यात्रा करने वाले जान लें ये नियम, दिल्ली से पटना आ गया विमान; पर नहीं आया सामान

फ्लाइट से यात्रा करने वाले जान लें ये नियम, दिल्ली से पटना आ गया विमान; पर नहीं आया सामान

एयर इंडिया का विमान (एआई 415) दिल्ली से सही समय पर शनिवार की देर शाम को पटना के जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर लैंड कर गया। सारे यात्री विमान से उतरकर अपने सामान लेने के लिए लगेज बेल्ट के पास पहुंच गए। इस विमान से आने वाले अधिकांश यात्रियों को उनका लगेज मिल गया। परंतु आधा दर्जन से अधिक यात्रियों का सामान नहीं मिला। बार-बार उन्हें थोड़ा इंतजार करने को कहा जा रहा था। एक घंटे तक उनका सामान नहीं पहुंचा तो यात्री हंगामा करने लगे। यात्रियों ने जब इसकी शिकायत करने की बात कही तो विमान कंपनियों के प्रतिनिधियों ने इसकी अनुमति नहीं दी। यात्रियों को एक दिन बाद रविवार को 12 बजे दिन में बुलाया गया है। विमानन कंपनी के प्रतिनिधियों ने कहा कि लगेज अधिक होने पर ऐसा होता है।


- छह यात्रियों का सामान छोड़कर दिल्ली से पटना आ गया एयर इंडिया का विमान
- शिकायत भी नहीं लिख रही थी विमानन कंपनी, यात्री हो गए परेशान
- दिल्ली से अगले दिन लगेज मंगवाने की बात कर रहे कम्पनी के प्रतिनिधि
- एक घंटे से एयरपोर्ट पर इंतजार कर रहे यात्री
हंगामे पर कहा, सामान दिल्ली में ही छूट गया

इस संबंध में पीड़ित यात्रियों ने बताया कि आधे दर्जन लोगों का सामान पटना एयरपोर्ट पर नहीं पहुंचा था। वे लोग दिल्ली से विमान संख्या एआई 415 से पटना एयरपोर्ट पहुंचे थे। पटना एयरपोर्ट पर जब सामान नहीं पहुंचा और यात्री हंगामा करने लगे तब विमान कंपनी के प्रतिनिधियों ने उन लोगों को बताया कि उनका सामान दिल्ली में ही छूट गया है। जब यात्रियों ने शिकायत पुस्तिका मांगी तो नहीं दी गई। लिखित शिकायत भी नहीं ली गई। यात्रियों को एक रसीद थमाते हुए रविवार को 12 बजे दिन में एयरपोर्ट आकर सामान ले जाने को कहा गया है।

 
फ्लाइट में सामान अधिक होने पर ऐसा होता है

इधर, विमानन कंपनी के प्रतिनिधियों ने बताया कि फ्लाइट में सामान अधिक हो जाने के कारण ऐसा होता है। बाद में दूसरे विमान से यात्रियों का सामान भेज दिया जाता है। बताया गया कि एयर इंडिया का दूसरा विमान रविवार को 12 बजे पटना एयरपोर्ट पर लैंड करेगा तब यात्रियों का सामान आ जाएगा।