मधेपुरा में चौकीदार हत्या मामले में 4 लोग अरेस्ट

मधेपुरा में चौकीदार हत्या मामले में 4 लोग अरेस्ट

बिहार के शिक्षा मंत्री के गांव में काली पूजा के दौरान बीते 28 अक्टूबर को हुए चौकीदार की मर्डर मुद्दे में पुलिस ने 4अपराधी को अरैस्ट करने में सफल रही जबकि मुख्य आरोपी समेत 2 क्रिमिनल पुलिस की पकड़ से दूर हैं. अरैस्ट अपराधियों के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर पुलिस ने सीन रिक्रियेट भी किया. इस संबंध में एसपी ने प्रेस वार्ता कर बताया कि मधेपुरा थाना अन्तर्गत भेलवा मधेपुरा सड़क पर शर्मा टोला के पास थाने में पदस्थापित चौकिदार गुरुदेव पासवान अपराधियों से लड़ते हुए शहीद हो गये थे.

पुलिस के लिए इस काण्ड का उदभेदन और अपराधियों की गिरफ्तारी एक चुनौती थी. इस सन्दर्भ में घटना में शामिल अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, मधेपुरा सदर के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था. इस टीम के सदस्यों ने अपने पूरी क्षमता से काम करते हुए पूरे ममाले का उद्भेदन किया और इस हत्याकांड में शामिल अपराधियों में से चार अपराधियों को उस समय अरैस्ट कर लिया जब ये पुनः किसी घटना को अंजाम देने के लिए एक स्थान एकत्रित हुए थे. इन अपराधियों के पास से मर्डर की घटना में प्रयुक्त हथियार को भी बरामद किया गया है. जबकि दो अपराधकर्मी अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल हो गये.

गिरफ्तार अपराधियों ने चौकिदार स्व० गुरुदेव पासवान के मर्डर में अपनी संलिप्ता स्वीकार कर ली है. इसके साथ ही मौके पर सीन रिक्रियेशन में भी इनलोगों के द्वारा मौके पर की गई घटना के बारे में बताया गया कि वे लोग कैसे इस घटना को अंजाम दिया. एसपी ने बताया कि अरैस्ट क्रिमिनल में बिक्कु सुमार पिता ललन कामती, अनमोल मंडल पिता मक्खन मंडल, उपकार अंसारी पिता जमीरउद्दीन अंसारी, बिंदु कुमार पिता गणेश यादव शामिल हैं. ये सभी भेलवा और उसके आसपास के क्षेत्र के रहने वाले हैं. उन्होंने बताया कि दो शेष अभियुक्त की गिरफ्तारी के लिए पुलिस के द्वारा लगातार छापेमारी की जा रही है. मर्डर के कारण के संबंध में एसपी ने बताया कि घटना क्रिमिनल को पकड़ने के दौरान घटी थी.